सिलवासा: केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कांग्रेस पर प्रहार करते हुए शनिवार को कहा कि उसे इस पर ‘शर्मिंदा’ होना चाहिए कि उसके नेता राहुल गांधी के बयान को पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र में कश्मीर को लेकर अपनी याचिका में इस्तेमाल किया. भाजपा अध्यक्ष शाह ने यहां एक जनसभा में गांधी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि लोगों ने अनुच्छेद 370 को निष्प्रभावी बनाने के नरेंद्र मोदी सरकार के कदम का समर्थन किया है लेकिन कुछ लोग अब भी उसका विरोध कर रहे हैं.

 

उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को हटाने के कदम का विरोध किया. राहुल गांधी जो भी बयान देते हैं उसकी गूंज पाकिस्तान में सुनाई देती है. पाकिस्तान ने अपनी अर्जी में उनके बयानों को शामिल किया है. कांग्रेस नेताओं को इस पर शर्मिंदा होना चाहिए कि इन बयानों का भारत के विरूद्ध इस्तेमाल किया जा रहा है. गांधी ने अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को हटाने के बाद कश्मीर में हिंसा की खबरों और ‘लोगों के मरने’ का बयान में जिक्र किया था. पाकिस्तान ने भारत के खिलाफ अपनी याचिका में इसका उल्लेख किया.

आबादी नियंत्रण के लिए चाहे जो भी कानून लाना पड़े, सरकार लाए: कांग्रेस नेता जितिन प्रसाद

अनुच्छेद 370 जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा देता था. शाह ने कहा कि विशेष दर्जा समाप्त करने से जम्मू कश्मीर के विकास का मार्ग प्रशस्त हुआ है और यह आतंकवाद के ताबूत में आखिरी कील होगी. उन्होंने कहा कि ऐसा करने से जम्मू कश्मीर का भारत में पूर्ण विलय हुआ है.