बेंगलुरु: केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े की ‘‘भड़काऊ’’ टिप्पणी पर पलटवार करते हुए कर्नाटक कांग्रेस अध्यक्ष दिनेश गुड्डू राव की पत्नी तबस्सुम ने सोमवार को कहा कि भाजपा नेता ‘‘अपनी पत्नी की साड़ी के पल्लू के पीछे छिपना’’ बंद करें और राव यानी मेरे पति के साथ राजनीतिक लड़ाई लड़ें. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राव ने हेगड़े की उपलबधियों पर सवाल खड़ा किया था, जिसके बाद मंत्री ने ट्विटर पर दिनेश गुड्डू राव का जिक्र एक ऐसे व्यक्ति के तौर पर किया था जो मुस्लिम महिला के पीछे भागता है. इसी के बाद गुड्डू राव की पत्नी तबस्सुम ने केंद्रीय मंत्री को जवाब दिया है.

हेगड़े पर पलटवार करते हुए राव की पत्नी तबस्सुम ने फेसबुक पर लिखा कि वह न तो किसी पार्टी से जुड़ी हैं और न ही किसी सार्वजनिक पद पर हैं. उन्होंने कहा, ‘‘अपनी सस्ती राजनीति के लिये वह मेरे नाम का इस्तेमाल मोहरे की तरह न करें.’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैंने भाजपा के किसी नेता के खिलाफ कोई व्यक्तिगत टीका-टिप्पणी नहीं की. अपनी सस्ती राजनीति के लिये मोहरे की तरह मेरे नाम का इस्तेमाल किया गया, जिस पर मैं कड़ी आपत्ति जताती हूं. हिम्मत है तो अपनी बीवी की साड़ी के पल्लू के पीछे छिपकर पत्थर फेंकने के बजाय वे मेरे पति को राजनीतिक चुनौती दें.’’ इसके साथ ही उन्होंने कहा कि मेरी शादी को 25 साल हो गए हैं. दो बेटियां हैं. कभी इस तरह की बात नहीं की गई. हेगड़े को मेरी निजी से क्या मतलब है.


उन्होंने लिखा, ‘‘जी हां, मैं जन्म से मुसलमान हूं लेकिन सबसे पहले हमें भारतीय होने पर गर्व है. भारत का संविधान धर्मनिरपेक्षता की बुनियाद पर आधारित है जो हर नागरिक को सोचने, अभिव्यक्ति, आस्था, धर्म और पूजा की आजादी की गारंटी देता है.’’ उन्होंने कहा कि केंद्रीय मंत्री की इस तरह की ‘‘महिला विरोधी और भड़काऊ’’ टिप्पणी बिल्कुल असहनीय है. तबस्सुम ने कहा कि उन्होंने हेगड़े को ट्विटर पर जवाब देने की कोशिश की थी लेकिन हेगड़े ने जवाब देने के बजाय उन्हें ब्लॉक कर दिया.