नयी दिल्ली: महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर कांग्रेस और राकांपा के वरिष्ठ नेताओं की बीच बुधवार को राष्ट्रीय राजधानी में बातचीत हुई. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) प्रमुख शरद पवार के आवास पर हुई बैठक में महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर तौर-तरीकों को तय करने पर चर्चा हुयी. इस बैठक में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल, जयराम रमेश, मल्लिकार्जुन खड़गे, पृथ्वीराज चव्हाण, केसी वेणुगोपाल, बालासाहेब थोराट ने हिस्सा लिया. वहीं राकांपा की ओर से बैठक में सुप्रिया सुले, अजित पवार, जयंत पाटिल, नवाब मलिक शामिल हुए.

 

बता दें कि राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) प्रमुख शरद पवार ने बुधवार को संसद भवन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की और महाराष्ट्र में बेमौसम बारिश के कारण पैदा हुए कृषि संकट के मद्देनजर किसानों को राहत पहुंचाने के लिए उनसे तत्काल हस्तक्षेप की मांग की. प्रधानमंत्री और पवार की यह मुलाकात महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर बनी अनिश्चितता के बीच हुयी है. सरकार बनाने के लिए राकांपा, कांग्रेस और शिवसेना के बीच पिछले कई दिनों से बातचीत चल रही है, हालांकि अभी कोई नतीजा नहीं निकला है. सरकार गठन की संभावना पर विचार करने के लिए ही बुधवार शाम कांग्रेस एवं राकांपा के वरिष्ठ नेताओं के बीच बैठक प्रस्तावित है.

शिवसेना ने अपने सभी विधायकों को ID और कपड़ों समेत 4-5 दिन के लिए बुलाया

दिसंबर के पहले सप्ताह में बनेगी शिवसेना की सरकार: राउत
उधर, बुधवार सुबह शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि महाराष्ट्र में सरकार गठन पर मंडरा रहे बादल आगामी दिनों में जल्द ही छटने वाले हैं. राउत ने कहा कि वर्तमान में विभिन्न दलों -शिवसेना, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी और कांग्रेस- में आंतरिक प्रक्रियाएं चल रही हैं. दिसंबर के पहले सप्ताह में शिवसेना के मुख्यमंत्री के नेतृत्व वाली सरकार कार्यभार ग्रहण कर लेगी. वहीं जब उनसे पूछा गया कि विधायकों को नए-नए तरीकों से लुभाने की कोशिशें की जा रही हैं, तो इसे खारिज करते हुए राउत ने कहा यह षड्यंत्र वही रच रहे हैं, जो शिवसेना की सरकार बनते नहीं देखना चाहते हैं.

महाराष्‍ट्र में अगले महीने बनेगी सरकार, कल 12 बजे साफ हो जाएगी तस्‍वीर: संजय राउत

उद्धव ठाकरे व पीएम मोदी की मुलाकात पर कही ये बात
यह पूछे जाने पर कि क्या शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करेंगे? राउत ने कहा कि किसानों की भलाई के लिए वह किसी से भी जाकर मिल सकते हैं. राकांपा और कांग्रेस के बीच बुधवार को होने वाली बैठक के बारे में राउत से जब पूछा गया तो उन्होंने कहा कि दोनों ही पार्टियों के बीच सरकार बनाने के लेकर बातचीत पूरी हो चुकी है और अब इस पर विराम लग जाएगा. (इनपुट एजेंसी)