मुंबई: महाराष्ट्र में विपक्षी एकता को एक बड़ा झटका देते हुए कांग्रेस का एक और राकांपा के तीन विधायक बुधवार को सत्तारूढ़ भाजपा में शामिल हो गए. इन विधायकों ने एक दिन पहले विधानसभा से इस्तीफा दे दिया था. भाजपा के वरिष्ठ नेता और महाराष्ट्र के जल संसाधन मंत्री गिरीश महाजन ने एक दिन पहले मंगलवार को दावा किया था कि चुनाव से पहले भाजपा के साथ जुड़ने के लिए कांग्रेस और एनसीपी के कम से कम 50 विधायक पार्टी के संपर्क में हैं. Also Read - Petrol- Diesel Prices Today 10 May 2021: डीजल- पेट्रोल के भाव बढ़े, देखें आज के रेट

कांग्रेस और एनसीपी का दामन छोड़कर आए विधायक बुधवार सुबह मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और राज्य भाजपा इकाई के अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल की उपस्थिति में सत्ताधारी पार्टी में शामिल हो गए. Also Read - Who is Himanta Biswa Sarma: पूर्वोत्तर के चाणक्य कहे जाते हैं हेमंत बिस्व सरमा, कभी कांग्रेस सरकार में थे मंत्री, आज बनेंगे असम के CM

एनसीपी के जिन तीन विधायकों ने अपना पाला बदला है, वे सतारा से शिवेंद्रराजे भोंसले, नवी मुंबई के ऐरोली से संदीप नाईक और अहमदनगर जिले के अकोले से वैभव पिचड़ हैं. इनके अलावा भाजपा का दामन थामने वालों में मुंबई के वडाला से कांग्रेस के विधायक कालिदास कोलंबकर भी शामिल हैं.

वैभव पिचड़ के पिता और राज्य के पूर्व आदिवासी विकास मंत्री मधुकर पिचड़ भी इस समारोह में शामिल हुए. बीजेपी के सूत्रों ने कहा कि इस साल के अंत में होने वाले विधानसभा चुनाव में भाजपा चारों को मैदान में उतार सकती है. हालांकि यह इस बात पर निर्भर करेगा कि भाजपा और उसके सहयोगी दल शिवसेना के बीच सीटों का बंटवारा किस प्रकार से होता है.