नई दिल्लीः पूरी दुनिया इस समय एक बहुत बड़ी जंग लड़ रहा है. भारत में भी कोरोना वायरस ने कोहराम मचा रखा है. भारत में कोरोना संक्रमण के मामले 18 हजार से ऊपर हो चुके हैं, लेकिन देश के कुछ ऐसे राज्य है जो दूसरे राज्य के लिए एक मोटिवेशन का काम कर रहे हैं. गोवा अब कोरोना से पूरी तरह से मुक्त है. गोवा के कोरोना फ्री होने पर गोवा कांग्रेस ने सवाल उठाए हैं. Also Read - Complete Lockdown In India! थम नहीं रहा कोरोना का कहर, क्या संपूर्ण लॉकडाउन है विकल्प? सरकार ने भी दिये संकेत- क्या कहते हैं आंकड़े

गोवा को रविवार को कोरोना मुक्त घोषित किया गया था. खुद सीएम प्रमोद सावंत ने इसकी जानकारी दी थी. अब इसे पूरे मामले में कांग्रेस ने कई सवाल सरकार से किए हैं. गोवा कांग्रेस के अध्यक्ष गिरीश चोंडाकर ने आरोप लगाया है कि प्रदेश में ठीक प्रकार से कोरोना के टेस्ट नहीं किए गए और सरकार ने जल्दबाजी में इसे कोरोना फ्री घोषित कर दिया है. Also Read - Video: हवा में उड़ते ही निकला एयर एंबुलेंस का पहिया, फिर ऐसे हुई लैंडिंग; सभी सुरक्षित

गिरीश ने कहा कि सरकार ने अभी राज्य में सिर्फ 0.04% ही कोरोना के टेस्ट करवाए हैं जबकि यहां की कुल आबादी 16 लाख है. उन्होंने कहा कि अभी भी 2158 लोग आइसोलेशन में हैं तो फिर सरकार को इसे कोरोना फ्री करने की इतनी जल्दी क्या थी. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने सीएम के उन दावों को भी पूरी तरह से खारिज कर दिया जिसमें कहा गया था कि मुख्यमंत्री ने तीन दिनों के अंदर 7000 सर्वेक्षणों की मदद से पांच लाख घरों का निरिक्षिण किया.

गिरीश ने कहा कि कोरोना पूरे विश्व के लिए एक गंभीर समस्या है और इसमें किसी भी तरह की जल्दबाजी सही नहीं है. उन्होंने कहा कि सरकार की यह जल्दबाजी प्रदेश वासियों को खतरे में डाल सकती है.