नई दिल्ली. अखिल भारतीय कांग्रेस का कार्यालय 24 अकबर रोड से हटाने की खबरों के बीच पार्टी नए कार्यालय की जद्दोजहद में लग गई है. रिपोर्ट के मुताबिक, कांग्रेस के पास नए कार्यालय के लिए पैसे नहीं है और इसके लिए वह अब क्राउड फंडिंग करने के बारे में सोच रही है. Also Read - मध्यप्रदेश: शिवराज सिंह चौहान ने किया ऐसा ट्वीट की भड़क गई कांग्रेस, कर डाली चुनाव आयोग से शिकायत

रिपोर्ट के मुताबिक, कांग्रेस राउज एवेन्यू में एक हाईटेक ऑफिस बनाने की योजना बना रही है. लेकिन, इसके लिए पार्टी के पास पर्याप्त पैसे नहीं है. इसी पैसे की व्यवस्था के लिए वह एक ऑनलाइन कैंपेन चलाना चाहती है. इसमें वह लोगों से पार्टी हेडक्वार्टर के लिए चंदा मांग सकती है. Also Read - एमपी में कांग्रेस उपचुनाव जीती, तो दोबारा "परदे के पीछे मुख्‍यमंत्री" बन जाएंगे दिग्विजय सिंह: ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया

राहुल गांधी के करीबी का आइडिया
सूत्रों के अनुसार, क्राउड फंडिंग का आइडिया राहुल गांधी के करीबी रहे कनिष्क सिंह से आया है. अपने हेडक्वार्टर प्रोजेक्ट पर काम करने से पहले पार्टी ने राउरकेला में सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल के लिए फंडिग की थी. इस हॉस्पिटल का वादा पीएम ने किया था, लेकिन उन्होंने पूरा नहीं किया. Also Read - Board Syllabus: कांग्रेस नेता का सीएम को पत्र, कहा- कक्षा 12वीं के सिलेबस में नेहरू की नीतियों वाली अध्यायों को बनाए रखा जाए  

एक्सपेरिमेंट कर चुकी है पार्टी
पार्टी ने दूसरा एक्सपेरिमेंट ”सेव डेमोक्रेसी” कैंपेन कर्नाटक में किया था. यहां प्रत्याशी के चुनाव प्रचार के लिए क्राउड फंडिंग की गई थी. सूत्रों के अनुसार, पार्टी का मानना है कि वह जनता के बीच इस तरही के बीजेपी से अंतर दिखा सकती है.

राहुल ने लगाया था आरोप
बता दें कि राहुल गांधी ने नरेंद्र मोदी सरकार पर ”सूट बूट की सरकार” कहते हुए हमला बोला था. इसकी काफी चर्चा हुई थी. एक सूत्र के मुताबिक, पार्टी का मानना है कि जब वह ये कहेगी कि हमारे पास पैसे नहीं है, कृपया हमारी मदद करिए. इससे पार्टी सीधे जनता से जुड़ेगी और एक संदेश जाएगा कि वह भ्रष्टाचारी नहीं है.

जून 2010 में मिला था प्लॉट
कांग्रेस को जून 2010 में 9-ए राउज एवेन्यू में पार्टी ऑफिस के लिए जमीन अलॉट हुई थी. पॉलिसी के मुताबिक, पार्टी को अपने चार बंगले को जून 2013 तक खाली करना था. चूंकि कांग्रेस साउथ एवेन्यू हेडक्वार्टर सेंक्सन नहीं हो पाया था, इसलिए पार्टी ने एक्सटेंसन ले लिया था.