नई दिल्ली: कांग्रेस ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) द्वारा आर्थिक पैकेज (Economic Package) की तीसरी किस्त की घोषणा किए जाने के बाद बड़ा निशाना साधा. कांग्रेस ने कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार आर्थिक पैकेज के नाम पर बजट की ही योजनाओं को सामने रख रही है और उसका यह पैकेज सिर्फ ‘13 शून्य’ साबित हुआ है. पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने यह दावा भी किया कि मोदी सरकार के एजेंडे में किसान और मजदूर कहीं नहीं हैं. उन्होंने कहा- ‘यह जुमला घोषणा पैकेज है. मोदी सरकार का 20 लाख करोड़ रुपये का पैकेज केवल ‘13 शून्य’ है.’ Also Read - Lockdown 5.0: इस दिन से लागू होगा लॉकडाउन 5.0! मन की बात में पीएम मोदी कर सकते हैं ऐलान, जानें क्या होंगे नए नियम

सुरजेवाला ने कहा कि ‘वित्त मंत्री आर्थिक पैकेज के नाम पर बजट की योजनाओं को ही सामने रख रही हैं. बजट की योजनाओं को आर्थिक पैकेज के तौर पर पेश करना राष्ट्रहित के साथ खिलवाड़ है.’ उन्होंने कहा- ‘पिछले तीन दिनों में वित्त मंत्री ने जो घोषणाएं की हैं उनमें सिर्फ कर्ज की बात की गई है. किसानों और मजूदरों को कोई राहत नहीं दी गई. क्या मुश्किल के समय उन्हें कर्ज देकर सरकार अपनी जिम्मेदारी से बच सकती है?’ Also Read - Lockdown 5.0: एक बार फिर बढ़ने जा रही है लॉकडाउन की अवधि! क्या होंगे नए नियम, जानें सबकुछ

गौरतलब है कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को कृषि उपज के रखरखाव, परिवहन एवं विपणन सुविधाओं के बुनियादी ढांचे के लिए एक लाख करोड़ रुपये के कृषि ढांचागत सुविधा कोष की घोषणा की. वित्त मंत्री ने यहां आर्थिक पैकेज की तीसरी किस्त की घोषणा करते हुए कहा कि इस कोष का इस्तेमाल शीत भंडारगृह, कटाई के बाद प्रबंधन ढांचे आदि के लिए किया जाएगा. इसके साथ ही वित्त मंत्री ने सूक्ष्म खाद्य उपक्रमों (एमएफई) को संगठित करने के लिए 10,000 करोड़ रुपए की योजना की भी घोषणा की. Also Read - भाजपा हिमाचल स्वास्थ्य विभाग में 'भ्रष्टाचार के पाप' से छुटकारा नहीं पा सकती : कांग्रेस