नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी ने त्रिपुरा से लेफ्ट का सूपड़ा साफ कर दिया है. इस बड़ी जीत के बाद अब बीजेपी मेघालय में सरकार बनाने जा रही है. मेघालय में बीजेपी समर्थित नेशनल पीपुल्स पार्टी के नेतृत्व वाली होगी. पार्टी के चीफ कोनराड संगमा अगले मुख्यमंत्री होंगे. बता दें कि मेघालय में बीजेपी को 2 सीट मिली हैं. वहीं सबसे ज्यादा 21 सीट लाने वाली कांग्रेस सरकार बनाने में कामयाब नहीं हो सकी. लगातार मिल रही हार के बाद अब कांग्रेस ने बीजेपी पर हमला किया है.

कांग्रेस ने बीजेपी पर तंज कसते हुए कहा कि सत्तारूढ दल द्वारा किसी भी कीमत और किसी भी माध्यम से सत्ता हथियाने के कारण प्रत्येक भारतीय चिंतित है. पार्टी ने साथ ही सवाल किया कि क्या इससे समूचा पूर्वोत्तर क्षेत्र अस्थिरता में नहीं ढकेला जा रहा है?. इसके साथ ही कांग्रेस ने त्रिपुरा, नगालैंड और मेघालय के लोगों को बधाई देते हुए उम्मीद जताई कि इन राज्यों की नई सरकारें शांति, प्रगति, आपसी मेलजोल और विकास के एजेंडे पर चलेंगी.

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने आज ट़वीट कर कहा, त्रिपुरा, नगालैंड, मेघालय के लोगों को हमारी शुभकामनाएं. उन्होंने कहा, हम गंभीरता से यह उम्मीद और प्रार्थना करते हैं कि नयी सरकारें शांति, प्रगति, साथ मिलजुलकर रहने और विकास के एजेंडे को आगे बढायेंगी. सुरजेवाला ने कहा, हम यह भी उम्मीद करते हैं कि लोगों विशेषकर युवाओं के मुद़्दों पर प्राथमिकता के साथ ध्यान दिया जाएगा उन्होंने कहा, प्रत्येक भारतीय, बीजेपी द्वारा किसी भी कीमत पर और किसी भी माध्यम से सत्ता हथियाये जाने को लेकर चिंतित है और क्या इसके कारण समूचे पूर्वोत्तर क्षेत्र को अस्थिरता में नहीं ढकेल जा रहा है?

21 सीटों के बाद भी नहीं बनी कांग्रेस की सरकार

पूर्वोत्तर के इन तीन राज्यों के चुनावों में कांग्रेस को हर तरफ से पटखनी मिली है. एक तरफ जहां त्रिपुरा और नगालैंड में कांग्रेस का खाता भी नहीं खुल पाया. वहीं मेघालय में 21 सीटें लाकर वह सबसे बडी पार्टी बनकर उभरी लेकिन कांग्रेस मेघालय में भी सरकार नहीं बना पा रही है. क्योंकि राज्य के राज्यपाल गंगाप्रसाद ने एपीपी नेता कोनराड के संगमा को नई सरकार बनाने का न्योता दिया है. एनपीपी को बीजेपी समर्थन दे रही है.(भाषा इनपुट )