चंडीगढ़: पंजाब में सत्तारूढ़ कांग्रेस के विधायकों ने सोमवार को आम आदमी पार्टी (आप) पर निशाना साधते हुए कहा कि राज्य में इस पार्टी का कोई भविष्य नहीं है. कांग्रेस विधायक हरमिंदर सिंह गिल ने राज्य विधानसभा में कहा कि आप 2017 के विधानसभा चुनावों के बाद अपने निर्वाचन क्षेत्रों में निर्वाचित एक ‘सरपंच’ (ग्राम प्रधान) भी नहीं ला सकी. गिल ने यह भी दावा किया कि कांग्रेस की अगुवाई वाली सरकार ने राज्य में कई स्मार्ट स्कूल खोले और वे दिल्ली की तुलना में काफी बेहतर हैं. बजट सत्र में राज्यपाल के अभिभाषण पर चर्चा में भाग लेते हुए कांग्रेस विधायक राज कुमार चब्बेवाल ने कहा, ‘‘मैं आप नेताओं को बताना चाहता हूं कि उनका पंजाब में कोई भविष्य नहीं है.’’ Also Read - Corona Outbreak: इस राज्य की स्थिति हो सकती है बदतर, संक्रमित देशों की सैर कर आए हैं 90 हजार लोग

बता दें कि हालिया प्रेस कॉन्फ्रेंस से पहले केजरीवाल ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की थी. हाल ही में दिल्ली के मुख्यमंत्री के रूप में केजरीवाल के कामकाज संभालने के बाद यह उनकी शाह के साथ पहली बैठक है. यह बैठक करीब 20 मिनट तक शाह के आवास पर चली. पहले यह बैठक गृह मंत्रालय में होनी थी. Also Read - सचिन पायलट ने कांग्रेस नेता की राज्यसभा के लिए उम्मीदवारी का किया समर्थन, बलात्कार का था आरोप    

केजरीवाल ने ट्वीट किया, ‘‘माननीय गृह मंत्री श्री अमित शाह जी से मुलाकात की. काफी सार्थक और अच्छी बैठक रही. दिल्ली से जुड़े कई मुद्दों पर चर्चा हुई. हम दोनों ही इस बात पर सहमत हुए कि दिल्ली के विकास के लिए हम साथ काम करेंगे.’’ गौरतलब है कि अमित शाह ने विधानसभा चुनाव के दौरान केजरीवाल पर आक्रामक निशाना साधा था. इस चुनाव में हालांकि भाजपा सिर्फ आठ सीटें ही जीत पाई और आम आदमी पार्टी के खाते में 62 सीटें आईं. दिल्ली विधानसभा में 70 सीटें हैं. Also Read - पेट्रोल-डीजल के दाम पर आप ने साधा केंद्र सरकार पर निशाना, कहा-कार चलाने से सस्ता है हवाई जहाज उड़ाना