नई दिल्ली: विपक्षी दलों के संभावित गठबंधन को लेकर भाजपा के कुछ नेताओं के हमलों पर पलटवार करते हुए कांग्रेस ने आरोप लगाया कि भाजपा जब चुनाव हारने वाली होती है तो वह पाकिस्तान की शरण में चली जाती है. पार्टी ने यह भी कहा कि भारत के आंतरिक राजनीतिक विमर्श में हाफिज सईद जैसे आतंकी का नाम लेना शर्मनाक है.

भाजपा नेताओं संबित पात्रा और गिरिराज सिंह के बयानों के बारे में पूछे जाने पर कांग्रेस नेता पवन खेड़ा ने कहा, “जब जब भाजपा चुनाव हारने वाले होती है तो पाकिस्तान की शरण में चली जाती है. इस देश की राजनीति में हाफिज सईद का नाम लिया जा रहा है, भाजपा के लोगों को शर्म आनी चाहिए. उन्होंने कहा कि विकास के मुद्दे पर विफल रहने की वजह से भाजपा इस तरह की बातें कर रही है ताकि ध्यान भटकाया जा सके.”

उन्होंने कहा कि हाफिज सईद को चीन बचा रहा है और यह सब मोदी सरकार की विदेश नीति की विफलता का परिणाम है. खेड़ा ने कहा कि सीमा पर जवान और खेतों में किसान त्रस्त हैं, लेकिन यह सरकार बेवजह के मुद्दों पर लगी हुई है. बैंकिंग क्षेत्र से जुड़े कथित घोटालों का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा,रोजाना एक बैंक घोटाले सामने आ रहे हैं.

आरबीआई ने कहा कि 23 हजार बैंकिंग घोटाले हुए और इनसे करीब एक लाख करोड़ रुपये के धन का गबन हुआ.कांग्रेस नेता ने कहा कि आईसीआईसीआई बैंक से जुड़े ‘घोटाले’ में मीडिया में बहुत कुछ कहा गया और लिखा गया तब सेबी ने एक नोटिस जारी किया. हम सेबी से पूछना चाहते हैं कि नोटिस जारी करने में इतनी देरी क्यों हुई?