कांग्रेस ने एक अध्यक्ष के चुनाव के लिए प्रक्रिया शुरू कर दी है. मधुसूदन मिस्त्री (Madhusudan mistry) की अगुवाई वाली पार्टी के केंद्रीय चुनाव प्राधिकरण ने अध्यक्ष के चुनाव के लिए प्रक्रिया शुरू कर दी है. उन्होंने राज्य इकाइयों से अखिल भारतीय कांग्रेस समिति (AICC) के सदस्यों के नाम भेजने को कहा है जो पार्टी अध्यक्ष के चुनाव के लिए मतदान करने के लिए पात्र हैं. गुरुवार को राज्य प्रमुखों को जारी एक आंतरिक ज्ञापन में, मिस्त्री ने लिखा, ‘आपको सूचित किया जाता है कि AICC जल्द से जल्द अपनी बैठक बुलाने का इरादा रखता है, और आपको तिथियों और निर्धारित जगह के बारे में अवगत करा दिया जाएगा.’Also Read - UP Assembly Election 2022: प्रियंका गांधी होंगी यूपी में कांग्रेस का सीएम फेस, कहा-कोई और दिखता है क्या

प्राधिकरण ने पहचान पत्र जारी करने के लिए एआईसीसी सदस्यों के नाम और फोटो देने को कहा है ताकि वे बैठक में भाग ले सकें. इसे पार्टी के 23 नेताओं द्वारा लिखे गए पत्र के मद्देनजर एक कदम के रूप में देखा जा रहा है जो ब्लॉक से CWC स्तर तक संगठन में चुनाव और स्थायी अध्यक्ष की नियुक्ति की मांग कर रहे हैं. Also Read - UP Assembly Election 2022: राहुल-प्रियंका ने जारी किया कांग्रेस का घोषणापत्र, सरकारी नौकरियों की गारंटी, करेंगे बंपर शिक्षक भर्ती, जानिए

अगस्त में 23 कांग्रेस नेताओं द्वारा एक पत्र लिखे जाने के बाद, पार्टी ने एक तूफानी सीडब्ल्यूसी बैठक देखी, जिसमें पूर्व कांग्रेस प्रमुख राहुल गांधी ने पार्टी के असंतुष्टों को निशाना बनाया था और पत्र के समय पर भी सवाल उठाया था. पार्टी की अंतरिम प्रमुख सोनिया गांधी को भेजे गए पत्र में नेतृत्व में बदलाव की मांग की गई थी. यहां तक कि राजस्थान और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्रियों ने भी राहुल गांधी से पार्टी प्रमुख के रूप में कार्यभार संभालने का अनुरोध किया. Also Read - India Gate पर जलनेवाली Amar Jawan Jyoti के विलय मामले पर राहुल गांधी ने जताया विरोध, मिला ये जवाब, जानिए

सोनिया गांधी ने पार्टी के शीर्ष पद से हटने की पेशकश की, लेकिन पूर्व प्रधानमंत्री और दिग्गज कांग्रेसी नेता मनमोहन सिंह ने इसे अस्वीकार कर दिया और उन्होंने उनसे पद पर बने रहने का आग्रह किया था. कई कांग्रेस नेताओं द्वारा राहुल गांधी को बिना किसी देरी के पार्टी प्रमुख के रूप में वापस लाने की मांग के साथ, पार्टी ने स्पष्ट कर दिया कि सीडब्ल्यूसी की बैठक में इस मुद्दे पर चर्चा होगी. पत्र में, भाजपा के उदय के साथ चिंता व्यक्त करते हुए, ‘पूर्णकालिक’ पार्टी अध्यक्ष का आह्वान किया गया था. सोनिया गांधी पिछले साल से अंतरिम अध्यक्ष हैं.

(इनपुट: IANS)