नई दिल्ली: कांग्रेस ने मंगलवार को आरोप लगाया कि सरकार 18 जुलाई से आरंभ हो रहे संसद के मानसून सत्र को बर्बाद करने की तैयारी में है ताकि वह हाल के घटनाक्रमों को लेकर जवाबदेही से मुक्त हो जाए.

पार्टी के वरिष्ठ प्रवक्ता आनंद शर्मा ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘पिछला सत्र भी सत्ताधारी दल ने बर्बाद किया था और विपक्ष पर गलत आरोप लगाया था. फिर से बीजेपी और सरकार तैयारी में है कि मानसून सत्र को खराब किया जाए ताकि कई सवाल जो पिछले सत्र में नहीं उठाए जा सके और दोनों सत्रों के बीच की अवधि में जो घटनाक्रम हुआ है, वह उसकी जवाबदेही से मुक्त हो जाए.’’ उन्होंने कहा कि सरकार अपनी जवाबदेही से भाग रही है.

शर्मा ने आंतरिक सुरक्षा, महिला विरोधी हिंसा, भीड़ द्वारा हिंसा, आर्थिक स्थिति और रोजगार की स्थिति को लेकर सरकार पर पूरी तरह विफल रहने का भी आरोप लगाया. पार्टी के वरिष्ठ प्रवक्ता आंनद शर्मा ने संवाददाताओं से कहा, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी निरन्तर गलत बयानी कर रहे हैं. वे जो कहते हैं, तथ्य उनको नकारते हैं.”

शर्मा ने दावा किया, ‘2014 से अब तक प्रधानमंत्री दुर्भावना के साथ काम कर रहे हैं. वह विपक्ष खासकर कांग्रेस को वैचारिक विरोधी नहीं बल्कि व्यक्तिगत विरोधी मानकर चल रहे हैं. हाल के बयानों से साफ है कि उनकी मानसिकता में कोई बदलाव नहीं आया है. उनको अपनी मानसिकता बदलनी चाहिए.’