नई दिल्ली. लोकसभा चुनाव की तैयारियों में जुटी कांग्रेस ने अब महिलाओं को अपने पक्ष में लामबंद करने की योजना बनाई है और इसके लिए वह देश भर में ‘महिला अधिकार यात्रा’ निकालने साथ ‘महिला चौपाल’ का भी आयोजन करेगी. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा स्वीकृत योजना के तहत पार्टी की महिला इकाई अखिल भारतीय महिला कांग्रेस ने पूरे देश में यात्रा निकालने, चौपाल का आयोजन करने और कई जगहों पर ‘नाइट मार्च’ निकालने का भी कार्यक्रम तय किया है. बता दें कि महिलाओं के साथ अत्याचार के मुद्दे पर कांग्रेस भारतीय जनता पार्टी की अगुवाई वाली केंद्र सरकार समेत भाजपा-शासित विभिन्न राज्य सरकारों पर भी निशाना साधती रही है. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता महिलाओं के प्रति हो रहे भेदभाव के मसलों को अपने भाषणों का विषय बनाते रहे हैं. पार्टी इसी मुहिम को अब अभियान का शक्ल देने की योजना बना रही है.

इन कार्यक्रमों के जरिए महिलाओं को अपने साथ जोड़ने के प्रयास के साथ महिला कांग्रेस महिलाओं से उनके मुद्दों को जानने की भी कोशिश करेगी, ताकि उनके कुछ अहम मुद्दों और इनके समाधान को कांग्रेस के चुनावी घोषणा पत्र में जगह दी जा सके. विभिन्न मुद्दों पर महिलाओं की राय जानने के लिए महिला कांग्रेस एक ‘वॉयस ऐप’ (Voice App) भी विकसित कर रही है.

महिला कांग्रेस की अध्यक्ष सुष्मिता देव ने बताया, ‘कांग्रेस अध्यक्ष चाहते हैं कि हमारी चुनावी प्रक्रिया, घोषणापत्र तैयार करने और देश के सबसे महत्वपूर्ण मुद्दों को चिह्नित करने में महिलाओं की पूरी भागीदारी हो. इसीलिए हम महिला अधिकार यात्रा निकालने जा रहे हैं.’ उन्होंने कहा, ‘हम महिला चौपाल भी आयोजित करेंगे, जहां महिलाओं से विभिन्न मुद्दों पर संवाद किया जाएगा और उनकी राय भी ली जाएगी. महिलाओं की राय की झलक हमारे घोषणापत्र में भी दिखेगी.’ सुष्मिता ने कहा कि वह जल्द ही हरियाणा से इस कार्यक्रम की शुरुआत करेंगी. फिर राजस्थान और दूसरे राज्यों में भी वह ऐसे कार्यक्रमों का आयोजन करेंगी.

(इनपुट – एजेंसी)