जम्मू: कांग्रेस ने सोमवार को कहा कि वह जम्मू-कश्मीर का राज्य का दर्जा बहाल कराने के लिये जन आंदोलन की तैयारी में जुटी है. पार्टी ने भाजपा नीत सरकार पर भूतपूर्व जम्मू-कश्मीर राज्य की जनता की चिंताओं को लेकर “आंखें मूंदने” का आरोप लगाया. गौरतलब है कि केन्द्र सरकार ने पांच अगस्त को जम्मू-कश्मीर से विशेष दर्जा वापस लेकर उसे दो केन्द्र शासित प्रदेशों जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में विभाजित करने की घोषणा की थी, जो 31 अक्टूबर को अस्तित्व में आ गए.

इस विभाजन का अर्थ है कि केन्द्र सरकार उपराज्यपाल के जरिये केन्द्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर की कानून-व्यवस्था और पुलिस पर सीधा नियंत्रण रखेगी. जम्मू (शहरी) जिला कांग्रेस समिति के अध्यक्ष विक्रम मल्होत्रा ने आरोप लगाया कि जम्मू-कश्मीर सिर्फ “प्रशासनिक इकाई” बनकर रह गया है और इसका गौरव छीन लिया गया है.

मल्होत्रा ने यहां कांग्रेस मुख्यालय में एक बैठक के दौरान कहा कि पार्टी जम्मू-कश्मीर के राज्य के दर्जे को बहाल करने के लिये केन्द्र सरकार पर दबाव बनाने की खातिर जन आंदोलन की तैयारी में जुटी है.

(इनपुट भाषा)