नई दिल्‍ली: महाराष्‍ट्र में सरकार बनाने को लेकर गुरुवार को दिल्‍ली में कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक हुई, जिसमें पार्टी की कार्य समिति ने तय किया है कि आगे क्‍या कदम उठाने हैं. कांग्रेस अब मीटिंग में तय किए गए कदम उठाएगी. इसके साथ ही कांग्रेस और एनसीपी दोनों सरकार बनाने को लेकर अपनी चर्चा जारी रखेंगी. कांग्रेस के सीनियर नेता ने कहा कि मुंबई में कल संभवता एक फैसला लिया जा सकता है.

कांग्रेस-राकांपा के बीच आज रात फिर होगी बैठक, शिवसेना के साथ अंतिम बैठक मुंबई में शुक्रवार को होगी.  सीडब्ल्यूसी की बैठक के बाद कांग्रेस के सूत्रों ने कहा महाराष्ट्र पर फैसला शुक्रवार तक  होगा.  शिवसेना के साथ मिलकर सरकार बनाने पर सीडब्ल्यूसी में सहम‍त‍ि बन गई है.

कांग्रेस नेता केसी वेणुगोपाल ने कार्यसमिति की मीटिंग के बारे में बताया है कि हमने सीडब्‍ल्‍यूसी के सदस्‍यों को महाराष्‍ट्र की ताजा स्थिति के बारे में जानकारी दी. आज कांग्रेस-एनसीपी चर्चा जारी रखेंगी. मेरा मानना है कि कल, हम शायद मुंबई में एक निर्णय लेंगे.

वहीं, महाराष्‍ट्र में सरकार बनाने को लेकर पार्टी के सीनियर नेता मल्लिकार्जुन खडगे ने कहा कि आज कांग्रेस वर्किंग कमेटी ने चर्चा की और तय किया कि क्‍या कदम आगे उठाने हैं. मीटिंग में तय किए गए कदम अब हम उठाएंगे.

महाराष्‍ट्र कांग्रेस प्रदेश अध्‍यक्ष बालासाहेब थोरात ने महाराष्‍ट्र में सरकार बनाने पर कहा, अभी बहुत से बिंदु हैं, जिन पर हमें स्‍पष्‍टीकरण की जरूरत है, अगर हमें पांच साल एक साथ सरकार चलाना है. चर्चा पर प्रगति है. हम आज मुंबई जाएंगे.

बता दें कि बुधवार को भी कांग्रेस और एनसीपी के नेताओं की मीटिंग दिल्‍ली में शरद पवार के आवास पर हुई थी, जिसके बाद दोनों दलों ने पहली बार खुलकर कहा था कि हम महाराष्‍ट्र में सरकार बनाने की दिशा में आगे बढ़ रहे हैं.

कांग्रेस-राकांपा के बीच बुधवार को पांच घंटे की लंबी बैठक चली थी, जो लगभग आधी रात खत्म हुई थी और उसके बाद फोन पर शिवसेना के साथ एक न्यूनतम साझा कार्यक्रम पर सहमति बनी थी. तीनों पार्टियों की शुक्रवार को मुंबई में एक बैठक प्रस्तावित है, जहां गठबंधन की घोषणा हो सकती है.