नई दिल्ली. पंजाब में सत्तारूढ़ कांग्रेस के हरदेव सिंह लाडी ने आज शाहकोट विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में जीत हासिल कर ली है. उन्होंने अपने करीबी प्रतिद्वंद्वी शिरोमणी अकाली दल के उम्मीदवार नायब सिंह कोहाड़ को 38,801 मतों के अंतर से हराया. चुनाव कार्यालय के एक प्रवक्ता ने यह जानकारी दी. बता दें कि शाहकोट सीट पर पहले शिरोमणि अकाली दल का ही कब्जा था. कांग्रेस ने उपचुनाव में इस सीट को जीत कर विपक्षी अकाली दल पर बढ़त कायम की है. लाडी को उपचुनाव में जहां 82,745 वोट हासिल हुए, वहीं कोहाड़ को महज 43,944 वोट मिले. आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार रत्तन सिंह कक्कड़ कलां को महज 1,900 वोट मिले. इस जीत के साथ ही 117 सदस्यीय विधानसभा में कांग्रेस के सदस्यों की संख्या 78 हो गई है. Also Read - Weather Report: बारिश ने उत्तर और पश्चिम भारत में गर्मी से दिलाई राहत, यूपी में 13 लोगों की मौत, सीएम ने मुआवजे का किया ऐलान

अकाली दल ने जीत के लिए लगाए थे सारे दांव
शाहकोट विधानसभा सीट के उपचुनाव के प्रचार के दौरान कांग्रेस और शिरोमणि अकाली दल के नेताओं के बीच तीखी बयानबाजी हुई थी. पार्टी के प्रमुख सुखबीर सिंह बादल ने उपचुनाव में प्रत्याशी के पक्ष में जमकर प्रचार किया. उन्होंने शिअद प्रत्याशी नायब सिंह कोहाड़ के लिए रोड-शो भी किया. इस दौरान अकाली दल ने क्षेत्र की जनता से अपील की कि वह सत्तारूढ़ कांग्रेस को सबक सिखाए. शिअद प्रत्याशी के पक्ष में प्रचार करते हुए सुखबीर सिंह बादल ने शाहकोट के वोटरों से अपील की थी कि वे उपचुनाव में सत्ताधारी कांग्रेस को सबक सिखाएं, क्योंकि उसने हर समाज के साथ छल किया है. शिअद प्रमुख ने वोटरों से कहा था कि किसानों, दलितों, युवाओं, व्यापारियों और उद्योग जगत से किए गए वादों पर पीछे हटने के लिए वे कांग्रेस से बदला लें. सुखबीर सिंह बादल ने पार्टी उम्मीदवार नायब सिंह कोहाड़ के समर्थन में यहां रोड शो भी किया था.

शिअद के आरोपों की मुख्यमंत्री ने की थी आलोचना
शाहकोट में उपचुनाव के प्रचार अभियान पर आए पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने शिअद नेताओं के बयानों की आलोचना की थी. प्रचार अभियान के दौरान राज्य सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू की पत्नी और बेटे को नौकरी देने के मामले पर सीएम अमरिंदर सिंह ने कहा था कि पूरे मामले को राजनीतिक मोड़ देने की अकाली नेता की बेतहाशा कोशिश ने एक बार फिर दर्शा दिया है कि पार्टी के पास कोई गंभीर मुद्दा नहीं है. शिरोमणि अकाली दल शाहकोट उपचुनाव में अपनी आसन्न हार के आलोक में गैर मुद्दों को झपट रही है. सीएम अमरिंदर सिंह ने कांग्रेस उम्मीदवार के पक्ष में चुनाव प्रचार करते हुए वोटरों से अपील की थी कि वे राज्य सरकार का साथ दें और चुनाव में कांग्रेस को विजयी बनाएं.

(इनपुट – एजेंसी)