नई दिल्ली: केंद्रीय कृषि कानूनों (Farm Laws) के खिलाफ कांग्रेस आज देशव्यापी प्रदर्शन कर रही है. दिल्ली से लेकर लखनऊ तक के राजभवन के सामने कांग्रेस नेता प्रदर्शन कर रह हैं. दिल्ली में हो रहे प्रदर्शन में राहुल (Rahul Gandhi) और प्रियंका गाँधी (Priyanka Gandhi) भी शामिल हैं. इसके साथ ही कई अन्य नेता भी प्रदर्शन कर रहे हैं. उप राज्यपाल के निवास के निकट आयोजित इस विरोध प्रदर्शन में राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कहा कि तीनों कानूनों को सरकार को वापस लेना पड़ेगा और जब तक ये वापस नहीं लिए जाते, तब तक कांग्रेस (Congress) पीछे नहीं हटेगी.Also Read - Uttarakhand Elections 2022: अमित शाह ने रुद्र प्रयाग में किया प्रचार, काम के आधार पर मांगे वोट

राहुल गांधी ने कहा कि ‘‘भाजपा (BJP) सरकार कुछ पूंजीपतियों को फायदा पहुंचाने के लिए ये कानून लाई है. ये कानून किसानों को खत्म करने के लिए हैं. सरकार किसानों की जमीन छीनने का प्रयास कर रही है.’’ Also Read - BJP देश की सबसे अमीर पार्टी, बसपा दूसरे और कांग्रेस तीसरे नंबर पर, जानें किसके पास कितनी संपत्ति

Also Read - नवजोत सिंह सिद्दू पर US से 'बहन' ने लगाया 'मां' को बेसहारा छोड़ने का आरोप, पत्‍नी बोली- मैं उन्‍हें नहीं जानती

विरोध प्रदर्शन में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी, दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौधरी अनिल कुमार, भारतीय युवा कांग्रेस के अध्यक्ष श्रीनिवास बीवी और कई अन्य नेता एवं बड़ी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद थे.

उल्लेखनीय है कि केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ कांग्रेस शुक्रवार को ‘किसान अधिकार दिवस’ (Kisan Adhikar Diwas) मना रही है. इसके तहत पार्टी के नेता एवं कार्यकर्ता प्रदेश मुख्यालयों पर धरना-प्रदर्शन करेंगे और राज्यपालों एवं उप राज्यपालों को ज्ञापन सौंपेंगे. मुख्य विपक्षी पार्टी ने आंदोलनकारी किसानों के समर्थन में ‘स्पीकअप फॉर किसान अधिकार’ हैशटैग से सोशल मीडिया (Social Media) अभियान भी चलाया है.