नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में गोलीबारी की घटनाओं की निंदा करते हुए कांग्रेस ने राष्ट्रीय राजधानी की बिगड़ती कानून-व्यवस्था को लेकर केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह पर निशाना साधा. जामिया में रविवार रात फिर से गोलीबारी की घटना घटी. इसके पहले 30 जनवरी को जामिया के छात्रों द्वारा निकाले जा रहे मार्च पर एक युवक ने गोलीबारी की थी, जिसमें एक छात्र घायल हो गया था. लेकिन गोलीबारी की घटना ने दिल्ली में कानून-व्यवस्था के बिगड़ते हालात पर सवाल खड़े किए हैं.

कांग्रेस ने ट्वीट किया, “हमारी राष्ट्रीय राजधानी में भाजपा जो कर रही है वह घिनौना है.” कांग्रेस ने आरोप लगाया कि भाजपा युवाओं को हथियार उठाने के लिए उकसा रही है. कांग्रेस ने कहा, “हमारे विद्यार्थी और हमारे नागरिक खतरे में हैं, क्योंकि भाजपा युवाओं को हथियार उठाने और विरोधियों के खिलाफ हिंसक कार्रवाई करने के लिए उकसा रही है.”

कांग्रेस ने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से सवाल किया, “आप दिल्ली की हिफाजत क्यों नहीं कर पाए?” कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने गोलीबारी का मुद्दा सोमवार को लोकसभा में उठाया और भाजपा नेताओं को फर्जी हिंदू बताते हुए उन पर हमला बोला. उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार गोलियों के जरिए लोगों की आवाज दबाने की कोशिश कर रही है.

कांग्रेस ने केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर पर भी लोगों को उकसाने का आरोप लगाया. ठाकुर ने हाल में एक रैली में गद्दारों को गोली मारने की बात कही थी.

(इनपुट भाषा)