नई दिल्ली: केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा कि तबलीगी जमात की वजह देश में कोरोना के मामले बढ़े हैं, लेकिन उन्होंने यह भी साफ किया कि यह बात पुरानी हो गई है. भाजपा सांसद और प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव के साथ संवाद में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा, “यह तकलीफ और कष्ट देता है कि मार्च के दूसरे सप्ताह में सिर्फ थोड़े ही मामले थे. मरकज की घटना दुर्भाग्यपूर्ण, दुखद और गैर जिम्मेदाराना है.”Also Read - Assembly Elections 2022: चुनाव आयोग ने रैलियों-रोड शो पर रोक 31 जनवरी तक बढ़ाई, थोड़ी सी राहत भी दी

उन्होंने कहा, “यह वाक्या उस समय का है, जब 10 -15 लोगों के एक जगह जुटने पर पाबंदी थी, लेकिन हजारों लोग विश्व के 10 से 15 देशों के जमा हुए. इसके बाद वे देश के कई भागो में फैल गये. इनकी वजह से देश के कई राज्यों में कोरोना के मामले बढ़े.” Also Read - CoronaVirus In India: एक दिन में मिले 3,37,704 नए कोरोना मरीज, 482 लोगों की मौत, जिन्दगी के लिए वैक्सीन है जरूरी!

Also Read - CoronaVirus In India Update: कोरोना ने तोड़ा रिकॉर्ड, एक दिन में मिले 3 लाख 17 हजार 532 नए मरीज, घबराएं नहीं, सतर्क रहें

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा, “इस मामले से निपटने में कई राज्यों और गृह मंत्री ने मदद की और हम इसको कंट्रोल करने में सफल रहे. लेकिन आज उसकी चर्चा की जरूरत नहीं है. हमने उन लोगों को इलाज किया और क्वारेन्टीन किया. 28 दिनों तक क्वोरेन्टीन में रखने के बाद हमने खुद उनको अपने घर रवाना किया है. हमें अनुशासन का पालन करना चाहिए.”

(इनपुट आईएएनएस)