Corona Updates: 7 महीने बाद, एक बार फिर एक दिन में 1 लाख से ऊपर केस, एक अच्छी खबर भी है

कोरोना संक्रमण ने एक बार फिर से देश में रफ्तार पकड़ ली है. सिर्फ आठ दिन पहले ही कोरोना के मामले एक दिन में 10 हजार पहुंचे थे, जो गुरुवार को 1 लाख के आंकड़े को पार कर गए. इस बार कोरोना की रफ्तार भले ही बहुत तेज हो, लेकिन एक संतोषजनक खबर यह है कि मृतकों की संख्या में बहुत ही मामूली बढ़ोतरी हुई है.

Published: January 7, 2022 7:42 AM IST

By Digpal Singh

Corona Updates: 7 महीने बाद, एक दिन में फिर से 1 लाख से ऊपर केस; लेकिन घबराने की जरूरत नहीं

Corona Updates: कोरोना संक्रमण ने एक बार फिर से देश में रफ्तार पकड़ ली है. कोरोना (Coronavirus) के मामलों में ताजा बढ़ोतरी को तीसरी लहर (Third Wave of Corona) के तौर पर देखा जा रहा है. कोरोना संक्रमण की इस रफ्तार के लिए ओमीक्रोन (Omicron) वेरिएंट को जिम्मेदार माना जा रहा है, जो ज्यादा संक्रामक तो है, लेकिन गंभीर संक्रमण के मामले सामने नहीं आए हैं. सिर्फ आठ दिन पहले ही कोरोना के मामले एक दिन में 10 हजार पहुंचे थे, जो गुरुवार को 1 लाख के आंकड़े को पार कर गए. आज से सिर्फ 9-10 दिन पहले तक कोरोना के प्रतिदिन मामले 10 हजार से कम थे. कोरोना के मामले बेतहाशा बढ़ने पर आपको घबराने की जरूरत नहीं है, क्योंकि इस बार यह अब तक घातक साबित नहीं हुआ है. संक्रमित होने वाले लोगों में बेहद मामूली लक्षण (Corona Symptoms) दिख रहे हैं और उनको अस्पताल में भर्ती होने की नौबत भी नहीं आ रही है.

Also Read:

गुरुवार को देश में कोरोना के 1 लाख से ज्यादा मामले सामने आए हैं, इससे पहले 6 जून 2021 को देश में 1 लाख से ज्यादा मामले सामने आए थे. यानी 214 दिन बाद एक बार फिर कोरोना (Covid19) के मामले 1 लाख के ऊपर पहुंचे हैं. पिछली बार जब मामले 1 लाख से ऊपर थे, उस समय कोरोना की दूसरी लहर (Second Wave of Corona) धीरे-धीरे धीमी पड़ रही थी. टाइम्स ऑफ इंडिया के कोविड डाटाबेस के अनुसार गुरुवार को देश में कोरोना के 1 लाख 17 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं. बता दें कि बुधवार को देश में कोरोना के 90 हजार 889 नए मामले दर्ज किए गए थे.

यदि कोरोना के ताजा मामलों में बढ़ोतरी की तुलना पहली और दूसरी लहर से करें तो इस बार की रफ्तार कई गुना तेज है. पहली पहर में 10 हजार से 1 लाख तक प्रतिदिन मामले पहुंचने में 103 दिन लगे थे. हालांकि, बता दें कि पहली लहर में प्रतिदिन का आंकड़ा एक लाख तक पहुंचा भी नहीं था, इसमें अपने पीक पर मामले 98 हजार 795 थे. दूसरी लहर में मामले 10 हजार से 1 लाख पहुंचने में सिर्फ 47 ही दिन लगे थे. दूसरी लहर में प्रतिदिन अधिकतम मामले 4 लाख से ऊपर पहुंचे थे.

कोरोना की मौजूदा रफ्तार कई गुना तेज है. सिर्फ 10 दिनों में ही कोरोना के मामले 1 लाख से ऊपर पहुंच गए हैं. 28 दिसंबर 2021 को मामले तेजी से बढ़ने शुरू हुए थे. इस समय कोरोना की औसत रफ्तार प्रतिदिन 35 फीसद है. गुरुवार को बुधवार के मुकाबले 29 फीसद कोरोना केस बढ़ गए. इससे पहले मंगलवार और बुधवार को 56 फीसद से ज्यादा मामले बढ़े थे.

इस बार कोरोना की रफ्तार भले ही बहुत तेज हो, लेकिन एक संतोषजनक खबर यह है कि मृतकों की संख्या में बहुत ही मामूली बढ़ोतरी हुई है. गुरुवार को 97 लोगों की कोरोना की वजह से मौत हुई, जो 100 के आंकड़े से नीचे है और कोरोना की दूसरी लहर से कई गुना कम है.

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. India.Com पर विस्तार से पढ़ें देश की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Published Date: January 7, 2022 7:42 AM IST