ईटानगरः अरुणाचल प्रदेश सरकार ने कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए विदेशियों को जारी किए जाने वाले प्रोटेक्टेड एरिया परमिट (पीएपी) को अस्थायी तौर पर निलंबित करने का फैसला किया है. अधिकारियों ने रविवार को बताया कि विदेशियों को राज्य में प्रवेश करने के लिए पीएपी की आवश्यकता होती है. Also Read - महाराष्ट्र में बढ़ रहा कोरोना: 6 दिन का बच्चा भी आया चपेट में, मरने वालों की संख्या 16 पहुंची

अरुणाचल प्रदेश की सीमा चीन से लगती है. उन्होंने बताया कि मुख्य सचिव नरेश कुमार ने पीएपी जारी करने वाले सभी अधिकारियों को अगले आदेश तक परमिट जारी करने की प्रक्रिया निलंबित करने का निर्देश दिया है. Also Read - कोरोना के कहर का एक और बड़ा असर, दूसरे विश्व युद्ध के बाद पहली बार विम्बलडन रद्द

सरकारी आदेश में कहा गया है, ‘‘ऐसा पता चला है कि भारत में कोविड-19 के पॉजीटिव मामले सामने आए हैं और यह संख्या बढ़ रही है. ऐसा भी मालूम चला है कि भारत में कोरोना वायरस मुख्यत: उन पर्यटकों से फैला है जो हाल फिलहाल में विदेश गए थे या उन पर्यटकों से फैला है जो भारत आए थे.’’ Also Read - सबसे पहले रेलवे को हुई थी तबलीगी जमात में कोरोना की जानकारी, ट्रेन में मिले थे मरीज, फिर भी...

इसमें कहा गया है, ‘‘अरुणाचल प्रदेश में कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए प्रोटेक्टेड एरिया परमिट जारी करने की प्रक्रिया अस्थायी रूप से निलंबित करने का फैसला लिया गया है.’’ इससे पहले सिक्किम ने भी विदेशियों पर ऐसी ही पाबंदियां लगाई. हिमालयी देश भूटान ने भी दो हफ्तों के लिए विदेशी पर्यटकों के वास्ते अपनी सीमाओं को बंद कर दिया है.

आपको बता दें कि भारत में कोरोना वायरस के अबतक कुल 39 मामले सामने आ चुके हैं. भारत सरकार नागरिकों से इस वायरस के खिलाफ एहतियात बरतने के लिए लगातार संदेश दे रही है. सरकार की तरफ से इससे निपटेन के लिए कई कारगर कदम भी उठाए जा रहे हैं.