नयी दिल्ली: केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिये अपने 50 फीसदी कर्मचारियों को घर से काम करने की इजाजत देने का बृहस्पतिवार को फैसला किया, जबकि शेष कर्मचारी रोजाना कार्यालय आएंगे लेकिन वे तीन अलग-अलग अवधि के लिये आएंगे. Also Read - 350 जरूरतमंद परिवारों की मदद कर रहे हैं भारतीय स्पिनर शाहबाज नदीम

कार्मिक मंत्रालय ने आदेश में कहा कि सभी विभागों के प्रमुख यह सुनिश्चित करें कि समूह बी और सी के 50 फीसदी कर्मचारी रोजाना कार्यालय आएं और शेष 50 प्रतिशत को घर से काम करने का निर्देश दिया जाना चाहिए. आदेश में कहा गया कि सभी विभागों के प्रमुखों को सलाह दी जाती है कि वे समूह बी और सी के कर्मचारियों के लिए साप्ताहिक रोस्टर बनाएं और उन्हें एक हफ्ते के अंतराल पर कार्यालय आने का निर्देश दें. हालांकि, पहले हफ्ते के रोस्टर पर फैसला करने के लिए विभागों के प्रमुखों को सलाह दी जाती है कि वे कार्यालय के नजदीक रहने वाले या अपने वाहन से कार्यालय आने कर्मचारियों को शामिल करें. Also Read - दिल्ली, मुंबई के बाद कोरोना संक्रमण का हॉट स्पॉट बना ये शहर, मरीजों की तादाद 89

कार्मिक मंत्रालय ने कहा कि कार्यालय आने के लिए सभी कर्मचारियों का समय अलग-अलग होना चाहिए. आदेश में कहा गया कि यह सलाह दी जाती है कि काम करने के घंटों के लिए कर्मचारियों के तीन समूह बनाये जाएं और उन्हें सुबह नौ बजे से शाम साढ़े पांच बजे, सुबह साढे़ नौ बजे से शाम छह बजे और सुबह 10 बजे से शाम साढ़े छह बजे का समय आवंटित किया जाए. (इनपुट भाषा) Also Read - विराट कोहली ने चुना अपना पसंदीदा फॉर्मेट, कहा-टेस्ट क्रिकेट ने मुझे बेहतर इंसान बनाया