देश में कोरोना वायरस संक्रमण के 13,083 नए मामले, अब तक  1 लाख 54 हज़ार से अधिक की मौत

देश भर में कोरोना वायरस के 1,69,824 मरीजों का इलाज चल रहा है.

Updated: January 30, 2021 12:03 PM IST

By India.com Hindi News Desk | Edited by Zeeshan Akhtar

maharashtra coronavirus
Mumbai airport had introduced the RT-PCR test counters at the terminal last September. (File photo)

नयी दिल्ली: भारत में कोविड-19 के 13,083 नए मामले सामने आने के साथ इस महामारी के कुल मामले बढ़कर 1,07,33,131 पर पहुंच गए जबकि अब तक संक्रमण मुक्त हुए लोगों की संख्या भी बढ़कर 1,04,09,160 हो गई है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि रोग से उबरने वाले लोगों की राष्ट्रीय दर 96.98 फीसदी है. देश में बीते 24 घंटे में 137 और संक्रमित व्यक्तियों की मौत हुई जिसके साथ ही मृतक संख्या बढ़कर 1,54,147 हो गई.

Also Read:

मंत्रालय के सुबह आठ बजे के आंकड़ों के मुताबिक देशभर में कोरोना वायरस के 1,69,824 मरीजों का इलाज चल रहा है जो संक्रमण के कुल मामलों का 1.58 फीसदी है. इसमें बताया गया कि कोविड-19 के कारण मरने वालों की दर 1.44 फीसदी है. भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के अनुसार, अभी तक कुल 19,58,37,408 नमूनों की कोविड-19 संबंधी जांच की जा चुकी है. इनमें से 7,56,329 नमूनों की जांच शुक्रवार को की गई. भारत में सात अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितम्बर को 40 लाख से अधिक हो गई थी.

संक्रमण के कुल मामले 16 सितम्बर को 50 लाख, 28 सितम्बर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख और 20 नवम्बर को 90 लाख और 19 दिसम्बर को एक करोड़ के पार चले गए थे.जिन 137 संक्रमितों की मौत हुई है उनमें से 56 महाराष्ट्र से, 22 केरल से, 11 पंजाब से, सात पश्चिम बंगाल से, छह दिल्ली से और चार संक्रमित उत्तर प्रदेश से हैं.संक्रमण से अब तक 1,54,147 लोगों की मौत हो चुकी है, जिनमें से महाराष्ट्र में सबसे अधिक 51,000 लोगों की मौत हुई है. इसके बाद तमिलनाडु (12,345), कर्नाटक (12,211), दिल्ली (10,841), पश्चिम बंगाल (10,155), उत्तर प्रदेश (8,646), आंध्र प्रदेश (7,152), पंजाब (5,601) और गुजरात (4,385) में सर्वाधिक लोगों की मौत हुई है.स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि अभी तक जिन लोगों की मौत हुई है, उनमें से 70 प्रतिशत से ज्यादा मरीजों को अन्य बीमारियां भी थीं.मंत्रालय ने अपनी वेबसाइट पर बताया कि उसके आंकड़ों का आईसीएमआर के आंकड़ों के साथ मिलान किया जा रहा है.

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. India.Com पर विस्तार से पढ़ें दिल्ली की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Published Date: January 30, 2021 12:03 PM IST

Updated Date: January 30, 2021 12:03 PM IST