इस्लामाबाद: विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने पाकिस्तान में कोरोना वायरस के तेजी से फैलने पर चिंता जताते हुए कहा है कि देश में अब इस बीमारी के रोजाना औसतन एक हजार मामले सामने आ रहे हैं. डब्ल्यूएचओ की बुधवार को जारी रिपोर्ट में कहा गया है कि एक हफ्ते में पाकिस्तान में रोजाना कोरोना के औसतन एक हजार मामले दर्ज किए गए हैं. यह संख्या मध्य अप्रैल की संख्या की तुलना में दोगुनी है. Also Read - इस राज्य में खुलेंगे मंदिर-मस्जिद, सीएम ने पूजा करने या नमाज़ पढ़ने के लिए रखी ये शर्त

पाकिस्तान में बुधवार को कोरोना वायरस के 1523 मामले सामने आए. अभी तक किसी एक दिन में इस बीमारी के इतने मामले दर्ज नहीं हुए थे. इसकी एक वजह यह भी है कि देश में कोरोना टेस्ट की संख्या बढ़ी है जिससे मामले सामने आ रहे हैं. रिपोर्ट में बताया गया है कि पाकिस्तान में कोरोना के कारण सर्वाधिक मौतें खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में हुई हैं जबकि कुल मरीजों की संख्या के मामले में प्रांत शीर्ष पर नहीं है. Also Read - मुंबई से गोरखपुर व्यवस्था देखने पहुंचे रवि किशन, एयरपोर्ट पर जायजा लेते हुए बोले- सटला त' गइला बाबू

रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान में कोरोना वायरस के कुल पुष्ट मामलों का 84 फीसदी 20 से 64 वर्ष के मरीजों से जुड़ा हुआ है. 74 फीसदी मौतें 50 से 79 साल के बीच के मरीजों की हुई हैं. देश में गुरुवार शाम तक कोरोना वायरस के पुष्ट मामलों की संख्या 24648 तक पहुंच गई. अब तक 585 मरीजों की मौत हो चुकी है. Also Read - कोरोना से डर गईं कॉमेडियन भारती सिंह, पोस्टपोन की बेबी प्लानिंग बोलीं.....

बता दें कि भारत में भी कोरोना वायरस का कहर जारी है. अब तक यहाँ 52 हज़ार से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं. जबकि 1700 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है. दुनिया भर में कोरोना मरीजों की संख्या 40 लाख से करीब पहुंच गई है. 2 लाख 67 हज़ार अधिक लोगों की मौत हो चुकी है.