जयपुर: राजस्थान के नागौर जिले में कोरोना वायरस से संक्रमित पाई गई तीन दिन की बच्ची को ठीक होने पर अस्पताल से छुट्टी दे दी गई. देश में यह अपनी तरह का संभवत: पहला मामला था जिसमें तीन दिन की बच्ची कोरोना वायरस संक्रमित पाई गयी थी. बच्ची अब 22 दिन की है. Also Read - इंटरनेशनल फ्लाइट से आने-जाने वालों के लिए केंद्र सरकार ने रखी शर्त, यात्रा से पहले माननी होगी ये बात

नागौर के उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी शीशराम चौधरी ने बताया कि जिले के बासनी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती एक महिला ने 16 अप्रैल को एक बच्ची को जन्म दिया. उसके मां व पिता सहित बाकी पूरा परिवार क्योंकि पहले ही संक्रमित था इसलिए उसका सैंपल लिया गया और 19 अप्रैल को उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई यानी वह भी संक्रमित पाई गयी. इसके बाद मां व बेटी को नागौर के जिला चिकित्सालय में रैफर कर इलाज किया गया. Also Read - इस राज्य में जाने वालों को क्वारंटाइन सेंटर में रहना होगा, वरना खानी पड़ेगी जेल की हवा

उन्होंने बताया कि बच्ची की दो रिपोर्ट लगातार ‘निगेटिव’ आई. दूसरी रिपोर्ट 23 अप्रैल को निगेटिव आ गयी लेकिन चूंकि मां संक्रमित थी इसलिए उसे अलग रखा गया. इसके बाद मां की दूसरी रिपोर्ट भी बृहस्पतिवार को ‘निगेटिव’ आई. चौधरी ने शुक्रवार को बच्ची जो इस समय 22 दिन की है उसे उसकी मां को सौंपा. इन दोनों, मां बेटी को शुक्रवार को अस्पताल से छुट्टी दे दी गयी. बासनी नागौर जिले में कोरोना वायरस संक्रमण का हॉटस्पाट था जहां 106 संक्रमित पाए गए. इनमें से 20 लोगों को ठीक होने के बाद शुक्रवार को छुट्टी दे दी गयी. अब इस गांव से केवल 15 संक्रमित ही बचे हैं. Also Read - एक्सपर्ट्स बोले- भारत में कोरोना का टीका बनने में कम से कम एक साल लगेगा, रिसर्च अभी शुरुआती चरण में