Corona Virus in Uttar Pradesh: यूपी के बस्ती में महिला और उसके तीन माह के बेटे में कोरोना वायरस (Corona Virus) संक्रमण की जांच गई. मां की रिपोर्ट तो निगेटिव आई, लेकिन उसके तीन माह के दुधमुंहे बच्चे की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. बच्चे को कोरोना संक्रमण निकला है. तीन माह के बच्चे को कोरोना होने का ये संभवतः पहला मामला है. माना जा रहा है कि देश में अब तक इतनी छोटी उम्र के बच्चे को कोरोना नहीं हुआ था. हालाँकि देश में इससे पहले बच्चों को कोरोना होने के मामले सामने आ चुके हैं, लेकिन इन बच्चों की उम्र कम से कम तीन साल रही है. इंदौर सहित अन्य जगहों पर भी बच्चों को कोरोना होने के मामले सामने आ चुके हैं. Also Read - Coronavirus in UP Update: 24 घंटे में कोविड के 2052 नये मामले, 28 लोगों की हुई मौत, जानें अपने जिले का हाल

उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले (Corona Virus in Basti) में एक तीन महीने के बच्चे को कोरोनो वायरस की जांच रिपोर्ट में पॉजिटिव पाया गया है. बच्चे का सैंपल उसकी मां के साथ, गोरखपुर मेडिकल कॉलेज (Gorakhpur Medical College) में परीक्षण के लिए भेजा गया था, जिसकी रिपोर्ट सोमवार रात मिली. जिसमें बच्चे को कोरोना वायरस से पॉजिटिव पाया गया, जबकि मां की रिपोर्ट का इंतजार है. दोनों को अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है. Also Read - सावधान करने वाली खबर: सर्दियां आते ही शुरू हो सकती है कोरोना की दूसरी लहर, लेकिन...

मां और बच्चे का संबंध उन युवाओं से है, जिनका 30 मार्च को गोरखपुर में कोरोनोवायरस के कारण मौत हो गई थी और वह मिलट नगर इलाके से हैं. जिसे कोरोना वायरस हॉटस्पॉट के रूप में चिह्न्ति किया गया है. जिला मजिस्ट्रेट आशुतोष निरंजन ने कहा कि बस्ती में कोरोनावायरस पॉजिटिव मामलों की संख्या अब 14 है. Also Read - मलाइका के बाद अब अर्जुन कपूर भी कोरोना से उबरे, काम पर वापसी

उत्तर प्रदेश में अब तक कोरोना वायरस (Corona Virus) के अब तक 500 से अधिक मामले सामने आ चुके हैं. 49 रिकवर हुए हैं जबकि पांच लोगों की मौत हुई है. देश में कोरोना के मरीजों की संख्या 10 हज़ार पार कर चुकी है. जबकि एक हज़ार से अधिक लोग ठीक भी हुए हैं. अब तक 339 लोगों की मौत हो चुकी है. बढ़ते कोरोना को देखते हुए लॉकडाउन को 3 मई (Lockdown Extend Till 3rd May) तक के लिए बढ़ा दिया गया है. पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने आज ही इसका ऐलान किया है. पहले चरण का लॉकडाउन 14 अप्रैल से लगाया गया था.