चेन्नई: दुनिया में कोरोना (CoronaVirus) के कहर के बीच हड़कंप मचा है. देश में कोरोना के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है. मौत का आंकड़ा भी बढ़ रहा है, ऐसे में तमिलनाडु में एक ऐसा मामला सामने आया, जिससे सबके होश उड़ गए. दरअसल, अस्पताल के स्वास्थ्यकर्मियों ने कोरोना के चार पॉजिटिव मरीजों को छोड़ दिया. ऐसा गलती से हुआ. जैसे ही इस बात का पता चला तो अफरा-तफरी मच गई. अब पुलिस इन्हें तलाश रही है. Also Read - एक बार फिर यूएई ने बीसीसीआई के सामने रखा IPL आयोजन का प्रस्ताव

मामला तमिलनाडु के विल्लुपुरम जिले का है. अस्पताल में कोरोना पॉजिटिव मरीज भर्ती थे. यहाँ उनका इलाज चल रहा था. इस दौरान अस्पताल की क्लेरिकल मिस्टेक से कोरोना वायरस पॉजिटिव ये मरीज डिस्चार्ज हो गए. Also Read - गेंदबाजी कोच की सलाह- अपने राज्य के मैदानों पर अभ्यास शुरू करें भारतीय क्रिकेटर

इस गलती का एहसास होने पर अस्पताल के अधिकारी पुलिस के पास पहुंचे और फिर जिले में रहने वाले एक ही परिवार से जुड़े तीन व्यक्तियों को वहां से तुरंत हटाया गया. बचे हुए जिस एक व्यक्ति का पता लगाया जा रहा है, वह दिल्ली का एक प्रवासी मजदूर है. पुलिस के मुताबिक, लापता मरीज का पता लगाने के लिए विशेष टीमें बनाई गई हैं. विल्लुपुरम जिले में अभी 20 कोविड -19 रोगी हैं. Also Read - WHO Unbelievable Statement: भारत में कोरोनावायरस के तेजी से बढ़ते मामलों पर WHO ने कही ये बड़ी बात, आप भी रह जाएंगे हैरान

बता दें कि देश में कोरोना के मरीज लगातार बढ़ रहे हैं. अब तक करीब 6 हज़ार मामले सामने आ चुके हैं. करीब 170 लोगों की मौत हो चुकी है. कोरोना रोकने के लिए देश में लॉकडाउन लगाया गया है. 14 अप्रैल तक के लॉकडाउन को बढ़ाया जा सकता है. हालात को देखते हुए ये फैसला सरकार ले सकती है. उड़ीसा में लॉकडाउन 30 अप्रैल तक कर दिया गया है. दुनिया भर में कोरोना संक्रमितों की संख्या 15 लाख पार हो चुकी है. मरने वालों की संख्या 90 हज़ार हो चुकी है. इस समय अमेरिका में दुनिया में सबसे अधिक करीब साढ़े चार लाख मरीज हैं.