Corona Virus in Kolkata: शहर के गार्डन रीच क्षेत्र में स्थित एक मस्जिद ने पृथक-वास (क्वारंटाइन सेंटर) केंद्र बनाने के लिए अपने परिसर का एक हिस्सा दिया है जिससे कोविड-19 के संदिग्ध मरीजों को रखने के लिए जगह की कमी का सामना कर रहे नगर निगम को कुछ राहत मिली है. Also Read - रिकॉर्ड: 24 घंटे में 9 हज़ार से अधिक कोरोना मरीज मिले, संक्रमितों की संख्या 2 लाख 16 हज़ार पार

बंगाली बाजार मस्जिद के इमाम मौलाना क़ारी मोहम्मद रिज़वी ने कहा कि मस्जिद समिति ने रमजान की भावना के अनुरूप पृथक-वास केंद्र में रखे जाने वाले लोगों के लिए इमारत की तीसरी मंजिल को खोलने का फैसला किया है जो छह हजार वर्ग फुट में फैली है. Also Read - कोरोना: महाराष्ट्र में 24 घंटे में रिकॉर्ड 123 मौतें, संक्रमितों की संख्या 78 हज़ार के करीब, मौत का आंकड़ा 2700 पार

गार्डन रीच क्षेत्र के कुछ हिस्से निषिद्ध क्षेत्रों में आते हैं. इमाम ने कहा, ‘‘हम सभी जानते हैं कि कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच सरकार क्षेत्र में पृथक-वास केंद्र बनाने के लिए जगह की कमी का सामना कर रही है. हमने सोचा कि इस उद्देश्य के लिए तीसरी मंजिल क्यों न सौंप दी जाए. तल को साफ कर दिया गया है और इसे पृथक-वास केंद्र बनाने के उपयुक्त बना दिया गया है.’’ Also Read - कोरोना: भारत में एक दिन में सामने आए रिकॉर्ड मामले, संक्रमितों की संख्या 2 लाख सात हज़ार पार

बता दें कि कोलकाता और बंगाल में भी कोरोना के मामले सामने आ रहे हैं. देश में अब तक कोरोना के 56 हज़ार मामले सामने आ चुके हैं. वहीं करीब 1800 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है. 24 मार्च से लॉकडाउन के बाद भी कोरोना वायरस थमने का नाम नहीं ले रहा है. लॉकडाउन अभी 17 मई तक चलेगा. इसके बाद भी हो सकता है बढ़ाया जाये. बिगड़ते हालात के बीच देश के कई हिस्सों में क्वारंटाइन सेंटर बनाने तक के लिए जगह की कमी पड़ गई है.