देहरादून: कोरोना (Corona Virus) जैसी त्रासदी में भी शातिर दिमाग लोग हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं. इसकी बानगी उत्तराखंड (Uttrakhand) की राजधानी देहरादून में देखने को मिली. लॉकडाउन (Lockdown in India) के दौरान परेशान लोगों की मजबूरी का फायदा उठाकर एक फर्जी दारोगा सड़कों पर उतर आया. फर्जी दारोगा रोजमर्रा की चीजें इकट्ठी करने निकले लोगों को धमकाकर उनके फर्जी चालान काटकर वसूली करने लगा. संदिग्ध मामला संज्ञान में आते ही देहरादून नगर पुलिस अधीक्षक श्वेता चौबे ने तुरंत आरोपी को गिरफ्तार करवा लिया. देहरादून एसपी सिटी ने घटना की पुष्टी की. Also Read - कोरोना वायरस के 'इलाज और टीके' के लिए पीएम मोदी ने की फ्रांस के राष्ट्रपति से बात

देहरादून एसपी सिटी ने बताया, “हेमंत अग्रवाल नाम के शख्स को इस फर्जी दारोगा की हरकतों पर शक हुआ. चूंकि फर्जी दारोगा खाकी वर्दी पहने था. डील-डौल से भी पुलिस अफसर लग रहा था. लिहाजा शक होने के बाद भी पीड़ित ने उससे उलझने के बजाये देहरादून कैंट थाने से शिकायत करना ज्यादा मुनासिब समझा.” एसपी सिटी के मुताबिक, “हेमंत अग्रवाल की शिकायत पर 24 मार्च (मंगलवार) को संदिग्ध कथित दारोगा के खिलाफ मामला दर्ज करने के बाद उसे दबोचने के लिए टीमें बना दी गयीं. पड़ताल के दौरान क्षेत्राधिकारी (सर्किल अफसर) मसूरी को इस फर्जी दारोगा के बारे में कई खास जानकारी मिल गयीं.” Also Read - स्टडी में खुलासा: लॉकडाउन के चलते यूरोप में बच गईं 59,000 लोगों की जानें

सीओ मसूरी नरेंद्र पंत, थानाध्यक्ष देहरादून कैंट संजय मिश्रा, सब-इंस्पेक्टर राजेश सिंह और सिपाही सुभाष की अलग अलग टीमों ने संदिग्ध दारोगा को दबोचने के लिए घेराबंदी कर दी. इसी बीच 25 मार्च यानि बुधवार को पुलिस टीमों को पता चला कि, आरोपी ने अनार वाला सर्किट हाउस इलाके में भी कई लोगों को उत्तराखंड पुलिस का दारोगा बनकर ठगा है. टीमों ने 25 मार्च को आरोपी को घेरकर दबोच लिया. Also Read - लॉकडाउन के बीच रवींद्र जडेजा ने की घुड़सवारी, BCCI की तरफ से भी आई प्रतिक्रिया

देहरादून पुलिस प्रवक्ता ने कहा, “गिरफ्तार फर्जी दारोगा राजेंद्र उर्फ राजन (32) मूलत: पंजाब के पुराना दाना मंडी मोगा का रहने वाला है. वर्तमान में कैंट थाना क्षेत्र देहरादून में रह रहा था. आरोपी के पास से देहरादून पुलिस ने ठगी से हासिल 4 हजार से ज्यादा रुपये, सब इंस्पेक्टर की वर्दी, स्कूटी भी जब्त कर ली है. आरोपी ने पुलिस पूछताछ में कबूला कि उसका एक भाई पंजाब नारकोटिक्स विभाग में तैनात है.”

देहरादून पुलिस प्रवक्ता के मुताबिक, “लॉकडाउन के दौरान जिला पुलिस आमजन की हरसंभव मदद की कोशिश में जुटी है. कोरोना के चलते लॉकडाउन में नागरिकों ने खुद को घरों में बंद कर रखा है. ऐसे में पुलिस उनके लिये दवाई, घरेलू रोजमर्रा की जरुरत और इस्तेमाल की वस्तुएं खुद दरवाजे पर पहुंचाने में जुटी है. जिले के हर थाने की पुलिस के इस बाबत सहयोग करने के निर्देश देहरादून के उप-महानिरीक्षक, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा पहले ही दिये जा चुके हैं.”

कोरोना वायरस से जुड़ी ये खबरें भी पढ़ें

Coronavirus: वैज्ञानिकों की चेतावनी, मई के मध्य तक भारत में 13 लाख लोग हो सकते हैं संक्रमित

कोरोना बेबी बूम: दुकानों पर कंडोम्स की कमी, 2020 के आखिर तक बढ़ेगी रिकॉर्ड जनसंख्या!

इस नर्स को दुनिया कर रही सलाम, Corona के खिलाफ लड़ते-लड़ते बोलीं- मैं जवान हूं लेकिन…

Coronavirus: जुकाम होने के बाद पहले 5 दिन में दिखें ये 3 लक्षण, तो जरूर कराएं COVID-19 की जांच

MLA पति के साथ बाइक पर घूमती दिखती हैं ये सांसद, कोरोना को लेकर कर रही हैं जागरूक

कोरोना के डर से घरों में कैद लोग कर सकें टाइम पास, इसलिए इस एडल्ट वेबसाइट ने फ्री की प्रीमियम सर्विस

Coronavirus Myth & Truth: एल्‍कोहल से मर जाता है कोरोना वायरस, ‘पीने’ वालों को नहीं होती ये बीमारी!

कोरोना वायरस फैलने से बढ़ी पोर्न स्टार्स की डिमांड, खूब कर रहीं कमाई

जो बनाएगा कोरोना वायरस की वैक्सीन, मैं उसके साथ बिस्तर पर…

पूनम पांडे ने बॉयफ्रेंड से कहा- Kya karega Corona jab dil kahe… karona

कोरोना का असर! घर में कैद हुईं सनी लियोनी, फोटो शेयर कर लिखा…

Coronavirus Stages: क्या है कोरोनावायरस के स्टेज 1-2-3-4, भारत कौन सी स्टेज पर है, आगे क्या होगा?

Coronavirus Test Private Labs List: लिस्ट जारी, इन प्राइवेट लैब्स में होगा कोरोनावायरस टेस्ट, इतनी होगी फीस