Corona Virus in India: देश में कोरोना (Corona Virus) अपनी रफ़्तार से बढ़ रहा है. मरीज मिलने का प्रतिशत ऊपर नीचे ज़रूर हो रहा है, लेकिन धीरे-धीरे ये आंकड़ा बढ़ ही रहा है. भारत में अब तक 824 मौतें हुई हैं, जबकि संक्रमितों की संख्या 26496 हो गई है. वहीं दुनिया के दूसरे हिस्से में भी हाहाकार मचा हुआ है. दुनिया भर में कोरोना से जान गंवाने वालों की संख्या 2 लाख से पार हो गई है. जबकि संक्रमितों की संख्या 27 लाख से अधिक है. ये आंकड़ा बेहद तेजी से बढ़ रहा है. अमेरिका में पिछले 24 घंटे में 2 हज़ार मौतें हुई हैं. अमेरिका जैसे देश में इस वायरस ने घुटन के बल ला दिया है. Also Read - सुप्रीम कोर्ट ने कहा- श्रमिकों से बस-ट्रेन का किराया न लें, सरकारों ने मजदूरों के लिए जो किया उसका नहीं हुआ फायदा

महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, आंध्र प्रदेश और राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली सहित अन्य स्थानों से कोविड-19 के नये मामले आने के साथ देश में कुल संक्रमितों की संख्या 26 हजार के पार पहुंच गई है. वहीं, सरकार ने कहा है कि नये मामलों की प्रतिदिन वृद्धि दर गिरकर छह प्रतिशत तक रह गई है. इस बीच, कुछ राज्यों ने और अधिक दुकानों के खुलने की अनुमति देकर लॉकडाउन की शर्तों में ढील देने की शुरुआत कर दी है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक शुक्रवार शाम से शनिवार शाम तक कोरोना वायरस संक्रमण से 56 लोगों की मौत हुई है, जो अब तक इस अवधि (24 घंटे) में हुई सबसे अधिक मौतें हैं. Also Read - पुलिस ने बेरोजगार हुए शख्स को चोरी करते पकड़ा, आपबीती सुन लेडी सब इंस्पेक्टर ने घर पहुंचाया राशन, फिर...

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने अपने सुबह के अपडेट में कहा कि भारत में अब तक 824 मौतें हुई हैं, जबकि संक्रमितों की संख्या 26496 हो गई है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार ठीक होने वालों का आंकड़ा भी करीब 6 हज़ार है. Also Read - Coronavirus Effect: अब इस राज्य में पोस्टमैन घर-घर पहुंचाएंगे आम और लीची, जानें क्या है सरकार की प्लानिंग

देश में लॉकडाउन (Lockdown) 3 मई तक बढ़ाया गया था. 24 मार्च से पूरा देश बंद है. सिर्फ बेहद ज़रूरी सेवाएं ही जारी हैं. केंद्र सरकार ने देश में कई और दुकानें खोलने की अनुमति दी है. हालांकि यूपी जैसी जगहों पर 30 जून तक भीड़ के एकत्रित होने पर प्रतिबन्ध लगा दिया गया है. वहीं, केंद्र सरकार ये मंथन कर रही है कि आखिर लॉकडाउन को किस तरह से ख़त्म किया जाये, इसे ख़त्म भी जाए या नहीं.