नई दिल्ली: चीन से फैला और धीरे-धीरे पूरी दुनिया में अपने पैर पसार चुका कोरोना वायरस काफी घातक रूप ले चुका है. सभी देश अपने नागरिकों को इससे बचने के लिए सलाह दे रहे हैं. वहीं, भारत के वाराणसी में भी लोगों को इस वायरस के प्रति जागरूक किया जा रहा है. भारत में इंसानों के अलावा भगवानों पर भी कोरोना का असर दिखाई दे रहा है. यहां लोग खुद को इस वायरस से बचाने का प्रयास तो कर ही रहे हैं साथ ही भगवानों को भी इस वायरस की चपेट में आने से बचा रहे हैं. Also Read - Coronavirus Effect: लॉकडाउन के चलते बिजली वितरण कंपनियों को बिल के भुगतान में तीन महीनें की मोहलत

वाराणसी के एक मंदिर में कोरोना वायरस के चलते भगवानों को भी मास्क पहनाया गया है. समाजसेवी रवीन्द्र त्रिवेदी ने अपने साथियों के साथ वाराणसी के प्रहलाद घाट पर बने प्रह्लादेश्वर मंदिर में शिवलिंग को मास्क से ढक दिया है, और मंदिर के बाहर भी पोस्टर लगाकर लोगों को सचेत किया गया है. इसमें लिखा है कि मंदिर में आने वाले भक्तों से अपील है कि वह मूर्तियों को न छुएं और फिलहाल दूर से ही पूजा करें.

रवीन्द्र त्रिवेदी ने बताया कि म लोगों ने मंदिर की मूर्तियों और खासकर शिवलिंग को मास्क पहनाया है. हमारा आग्रह है कि लोग मूर्तियों को स्पर्श न करें, इससे भी वायरस अधिक लोगों तक पहुंच सकता है. पुजारी मुन्ना तिवारी ने बताया कि जिस प्रकार जाड़े में भगवान को कम्बल, गर्मी में पंखा-एसी का इस्तेमाल करते हैं. ठीक उसी तरह जागरुकता के लिए भगवान को भी मास्क पहनाया गया है. काशी भगवान भोले की नगरी यहां से संदेश दूर-दूर तक जाता है.