नई दिल्ली: सरकार ने शुक्रवार को आश्वासन दिया कि कोरोना संकट से निबटने के मामले में देश में मास्क, दस्तानों और सेनेटाइजर की कोई कमी नहीं है तथा भारत में प्रति दिन डेढ़ करोड़ मास्क बनाये जा रहे हैं. Also Read - Aaj Ka Panchang 2 April 2020: आज राम नवमी, देखें पंचांग, शुभ-अशुभ समय, राहुकाल

रसायन एवं उर्वरक राज्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने राज्यसभा में प्रश्नकाल के दौरान एक पूरक प्रश्न के उत्तर में यह बात कही है. उन्होंने कहा कि आज कोरोना वायरस का प्रसार एक वैश्विक महामारी के रूप में उभरा है. भारत सरकार देश में इससे निबटने के लिए विभिन्न कदम उठा रही है जिसकी कल प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने संबोधन में देश को जानकारी दी थी. Also Read - Ram Navami 2020 Wishes In Hindi: राम नवमी पर हिंदी में भेजें ये शुभकामना संदेश

उन्होंने कहा कि देश में तीन रास्तों से कोरोना वायरस का संक्रमण हो सकता है. पहला जलमार्ग, दूसरा वायुमार्ग और तीसरा बांग्लादेश, नेपाल आदि पड़ोसी देशों से भूमार्ग के जरिये. उन्होंने कहा कि देश में इस संक्रमण को रोकने के लिए कड़े उपाय किए जा रहे हैं. विदेशों से जो भी आता है, उसे 14 दिन पृथक रखा जाता है. जल मार्ग में भी बंदरगाहों पर जहाज चालक दल के लोगों को पृथक रखा जा रहा है. Also Read - कोरोना: करीब 1900 हुई मरीजों की संख्या, अब तक 55 मौतें, एशिया के सबसे बड़े स्लम एरिया धारावी पहुंचा संक्रमण

मंडाविया ने कहा कि देश में दवा की कोई कमी नहीं हो, इसके लिए पूरे प्रयास किए जा रहे हैं. उन्होंने कहा, ‘‘देश में मास्क बनाने वाली 100 से अधिक इकाइयां हैं. हमारी क्षमता प्रति दिन डेढ़ करोड़ मास्क बनाने की है. इनका उत्पादन शुरू हो चुका है और इनकी कोई कमी नहीं है.’’

उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि देश में मास्क, दस्तानों और सेनेटाइजर की कोई कमी नहीं है. उन्होंने कहा, ‘‘देश में कोई भी संकट खड़ा न हो, इसके लिए हम पहल कर रहे हैं. ’’