नई दिल्ली/मुंबई: मुंबई में 63 वर्षीय एक व्यक्ति की कोरोना वायरस के कारण हुई मौत के बाद भारत में इसकी वजह से मरने वालों की संख्या मंगलवार को बढ़कर तीन हो गई. स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों ने कहा कि कोरोना वायरस के पुष्ट मामलों की संख्या बढ़कर 139 हो गई है. सरकार की तरफ से जारी एक अतिरिक्त यात्रा परामर्श के मुताबिक, सरकार ने अफगानिस्तान, फिलिपीन और मलेशिया से आने वाले यात्रियों पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी है. इससे पहले सोमवार को सरकार ने यूरोपीय संघ के देशों, तुर्की और ब्रिटेन से आने वाले यात्रियों के प्रवेश पर 18 से 31 मार्च तक रोक लगा दी थी. Also Read - भोपाल में 'टोटल लॉकडाउन', कोरोनावायरस की रोकथाम के लिए लिया गया फैसला

भारतीयों को वापस लाने के लिए सरकार ने भेजी फ्लाइट
कोरोना वायरस के चलते उड़ानें रद्द होने से केरल के कम से कम 300 लोग मलेशिया के कुआलालंपुर हवाई अड्डे पर फंसे हुए हैं. ये लोग फिलिपींस, कम्बोडिया और मलेशिया की यात्रा कर हवाई अड्डे पर पहुंचे हैं. इनमें कई छात्र भी शामिल हैं. हालांकि भारत सरकार ने इन छात्रों को वापस लाने के लिए फ्लाइट्स भेज दी हैं. Also Read - चतुराई दिखा रहा है तबलीगी जमात का मुखिया मोहम्मद साद, क्वारंटाइन के बहाने समर्थन हासिल करने की कोशिश

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने ट्वीट कर जानकारी दी, उन्होंने कहा- “कुआलालंपुर हवाई अड्डे पर वापस आने की प्रतीक्षा कर रहे भारतीय छात्रों और अन्य यात्रियों की कठिन स्थिति की सराहना करते हैं. हमने अब आपके लिए दिल्ली और विशाखापत्तनम के लिए एयर एशिया की उड़ानों को मंजूरी दे दी है. ये मुश्किल समय है और आप सभी को एहतियात बरतना चाहिए. कृपया एयरलाइन के संपर्क में रहें.” Also Read - आशीष नेहरा ने लॉकडाउन को तेज गेंदबाजों के लिए बताया ज्‍यादा चुनौतीपूर्ण, ये है वजह

ताजमहल जैसे सार्वजनिक स्थल बंद
कुछ दिनों पहले तक ‘सामाजिक दूरी’ (सोशल डिस्टेंसिंग) जैसा शब्द जहां बहुत से लोगों ने सुना तक नहीं था वह अचानक से बेहद चर्चा में है क्योंकि ताजमहल जैसे स्मारकों समेत सार्वजनिक स्थल बंद हैं और हजारों लोग अगले कुछ दिनों तक घर में रहने, तथा ऑनलाइन काम या पढ़ाई करने की तैयारी कर रहे हैं. अधिकारियों ने कहा कि मुंबई का मरीज दुबई गया था और यह महाराष्ट्र में कोविड-19 से हुई मौत का पहला मामला है. राज्य में हालांकि कोरोना वायरस के सबसे ज्यादा 41 मामले सामने आए हैं.

दुनियाभर पर संकट
इससे पहले कर्नाटक के कलबुर्गी में 76 वर्षीय एक व्यक्ति की मौत हुई थी और दिल्ली में भी 68 वर्षीय एक महिला की इस वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद मौत हो गई थी. जॉन्स हॉपकिंस विश्वविद्यालय के मुताबिक दुनियाभर में इस वायरस के कारण 7,100 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 1,82,000 लोग इससे संक्रमित हैं.

महाराष्ट्र सबसे ज्यादा प्रभावित
अधिकारियों ने कहा कि महाराष्ट्र के मरीज की पत्नी भी इस वायरस से संक्रमित पाई गई है और वह पांच दिन एक निजी अस्पताल में भर्ती रहने के बाद मुंबई के कस्तूरबा अस्पताल में भर्ती कराई गई थी. उन्होंने बताया कि उनकी हालत स्थिर है. अधिकारियों ने बताया कि निजी अस्पताल में भर्ती होने के वक्त पीड़ित ने अपने यात्रा इतिहास की जानकारी नहीं दी थी.

सीएम ठाकरे की चेतावनी
प्रदेश के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि लोग अगर गैर जरूरी यात्रा करने से परहेज नहीं करेंगे तो सरकार बस और ट्रेन सेवाओं को बंद करने का ‘कड़ा फैसला’ लेने पर मजबूर हो जाएगी. राज्य कैबिनेट की साप्ताहिक बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए ठाकरे ने लोगों से गैर जरूरी यात्रा नहीं करने और बिना वजह एक जगह जमा नहीं होने की अपील भी की. महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा कि मरीज की मौत के वास्तविक कारणों का पता लगाया जा रहा है क्योंकि वह कई दूसरी बीमारियों से भी ग्रस्त था. प्रदेश के पुणे जिले में कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा 17 लोग संक्रमित हैं. ऐसे में पुणे जिले की सीमा छोड़कर जाने वालों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है.

देश के 15 राज्यों और केंद्र शासित क्षेत्रों से कोरोना वायरस संक्रमण के कुल 139 मामले सामने आए हैं जो सोमवार रात से 24 ज्यादा हैं. इन संक्रमित लोगों में 24 विदेशी नागरिक भी शामिल हैं. नए मामलों में से दो नोएडा से सामने आए हैं. मुख्य चिकित्सा अधिकारी अनुराग भार्गव ने कहा कि इनमें से एक हाल ही में फ्रांस से लौटा था और पहले से ही पृथक किया गया है. दूसरे मरीज को भी पृथक कर दिया गया है. बेंगलुरु में भी सोमवार देर रात कोविड-19 से तीन और लोग संक्रमित पाए गए.

अधिकारियों ने कहा कि एक 67 वर्षीय महिला भी कोरोना वायरस से संक्रमित पाई गई है. इसे मिलाकर राज्य में इस वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 11 हो गई है. अधिकारियों ने कहा कि इससे पहले ब्रिटेन की यात्रा करने वाली 20 वर्षीय एक युवती तथा 60 साल का एक अन्य शख्स भी इस वायरस से संक्रमित मिला था.

पश्चिम बंगाल में पहला मामला
इस बीच पश्चिम बंगाल में इंग्लैंड से लौटे एक व्यक्ति को कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया. प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक यह राज्य में कोरोना वायरस संक्रमण का पहला मामला है. पीड़ित को कोविड-19 के लक्षण नजर आने के बाद बेलियाघाट आईडी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. केंद्रीय मंत्रालय ने इन आंकड़ों को तत्काल राष्ट्रीय गणना में शामिल नहीं किया है.

इस बीच, विदेश मंत्रालय ने कहा है कि वह इस बात की पुष्टि नहीं कर सकता कि ईरान में 250 से ज्यादा भारतीय कोविड-19 पॉजिटिव हैं. विदेश मंत्रालय के अतिरिक्त सचिव दामू रवि ने पत्रकारों से कहा, ‘‘ईरान में रह रहे भारतीयों का हमारा मिशन काफी अच्छे से ध्यान रख रहा है. इस बात की पुष्टि नहीं कर सकता कि ईरान में 250 से ज्यादा भारतीय पॉजिटिव पाए गए हैं.’’

14 लोगों को अस्पतालों से छुट्टी
मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक अब तक 14 लोगों को अस्पतालों से छुट्टी दी जा चुकी है. इनमें से केरल के वो तीन मरीज भी शामिल हैं जिन्हें पिछले महीने छुट्टी दी गई थी. महाराष्ट्र के बाद केरल में कोविड-19 के मरीजों की संख्या सबसे ज्यादा है. यहां इससे ग्रस्त लोगों का आंकड़ा 26 है, जिनमें दो विदेशी भी शामिल हैं. मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन ने कहा कि प्रदेश में मंगलवार को यद्यपि कोरोना वायरस का कोई नया मामला नहीं मिला है यद्यपि 18,000 लोगों को निगरानी में रखा गया है.

आंध्र प्रदेश में राहत की खबर!
वहीं, आंध्र प्रदेश में हाल में विभिन्न देशों से आए कुल 580 लोगों को घर में ही पृथक रखा गया है जबकि 22 अन्य को अस्पतालों में निगरानी में रखा गया है. राज्य के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग ने यह जानकारी दी. प्रदेश में हालांकि 12 मार्च के बाद से कोई पॉजिटिव मामला सामने नहीं आया है.

पीएम का सांसदों से जागरूकता फैलाने का आह्वान
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को भाजपा सांसदों से कोरोना वायरस के बारे में जागरूकता फैलाने का आह्वान किया. साथ ही स्पष्ट किया कि संसद के बजट सत्र में कोई कटौती नहीं की जायेगी क्योंकि ऐसे समय में जब स्वास्थ्य संबंधी बड़ी चुनौती सामने है, तब सांसदों को अपना काम करते दिखना चाहिए. संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने बैठक के बाद संवाददाताओं से कहा कि भाजपा संसदीय दल की बैठक में जोशी ने बताया कि प्रधानमंत्री ने कोरोना वायरस से मुकाबला करने में डॉक्टरों, नर्सों और स्वास्थ्य कर्मियों की कड़ी मेहनत एवं योगदान की सराहना की.

वैश्विक महामारी है कोविड-19
कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच सरकार ने कहा कि वायरस के सामुदायिक संक्रमण का मामला सामने नहीं आया है और अब तक स्थानीय स्तर पर ही संक्रमण के कुछ मामले देखे गए हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) कोविड-19 को वैश्विक महामारी घोषित कर चुका है. वहीं, स्वास्थ्य मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि संक्रमित लोगों के संपर्क में आए 5,700 से ज्यादा लोगों की पहचान की गई है और उन्हें निगरानी में रखा गया है.

ट्रेनें रद्द
मध्य रेलवे ने मंगलवार को बाहर जाने वाली 23 ट्रेनों को जबकि पश्चिमी रेलवे ने पांच ट्रेनों को एक अप्रैल तक के लिए रद्द कर दिया है. रेलवे ने इन ट्रेनों को रद्द करने का कारण कोरोना वायरस के खतरे और सीटें खाली रहना बताया है. उड्डयन नियामक डीजीसीए ने मंगलवार को उड्डयन कंपनियों से कहा कि वे कोरोना वायरस खतरे के मद्देनजर प्रत्येक विमान को 24 घंटे में कम से कम एक बार संक्रमण मुक्त करें और प्रत्येक विमान के शौचालय और गैली (जहां खाना तैयार किया जाता है) में हैंड सैनीटाइजर रखें.

सरकारी इमारतों में थर्मल स्कैनर लगाने का आदेश
गोएयर ने कोरोना वायरस संकट के मद्देनजर मंगलवार से अपनी अंतरराष्ट्रीय उड़ानें निलंबित करने की घोषणा की है. उड़ानों की संख्या में कमी के चलते कंपनी क्रमिक आधार पर अपने कर्मचारियों को बिना वेतन के छुट्टी पर भेजेगी. केंद्र सरकार ने कोविड-19 के मद्देनजर सभी मंत्रालयों से सरकारी इमारतों में थर्मल स्कैनर लगाने को कहा है. इसके साथ ही आगंतुकों को नियमित और अस्थायी पास भी फिलहाल जारी नहीं किये जाएंगे. देश के कई इलाकों में सार्वजनिक कार्यक्रमों, कंसर्ट, नाटकों के मंचन और यहां तक की विवाहों को भी टाला जा रहा है.

सिनेमा हॉल भी बंद
शिक्षण संस्थानों और सिनेमा हॉल भी बंद किये गए हैं. उत्तर प्रदेश में राज्य सरकार ने सभी शिक्षण संस्थानों को दो अप्रैल तक बंद रखने का आदेश दिया है. एक मंत्री ने कहा कि प्रतियोगी और अन्य परीक्षाएं भी दो अप्रैल तक स्थगित रहेंगी और शहर के पर्यटन स्थल भी बंद रहेंगे.

कश्मीर के लिए खास इंतजाम
जम्मू कश्मीर में भी प्रशासन ने कोरोना वायरस का प्रकोप कम करने के लिए कई उपाय किये हैं जिनमें छात्रों के लिए टीवी पर कक्षाओं के प्रसारण की योजना भी शामिल है. श्रीनगर के जिलाधिकारी शाहिद इकबाल चौधरी ने तीन पेज के आदेश में कोविड-19 पर रोकथाम के दौरान क्या करना है, क्या नहीं समेत कई उपाय बताए हैं. सभी शिक्षण संस्थानों को अगले आदेश तक के लिये बंद कर दिया गया है. वहीं रामबन जिले में अधिकारियों ने मंगलवार को सार्वजनिक परिवहन निलंबित रखने के साथ ही जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर 31 मार्च तक होटल और रेस्तरां बंद रखने का आदेश दिया है.

वहीं पंजाब में भी सरकार ने मंगलवार को सभी मॉल, वाणिज्यिक परिसरों और किसान मंडियों को 31 मार्च तक बंद करने का आदेश दिया है. सरकार ने शादियों में भी लोगों के इकट्ठा होने की सीमा 50 लोगों तक सीमित कर दी है. सरकार द्वारा गठित सात सदस्यीय मंत्री समूह ने भारत सरकार से मिले परामर्श के आधार पर यह फैसला लिया.

(इनपुट भाषा)