नई दिल्ली: कोरोना वायरस के खतरे के मद्देनजर इटली से 263 भारतीय छात्रों को रविवार को स्वदेश लाया गया और उन्हें आईटीबीपी के एक अलगाव केंद्र में भेज दिया गया. एयर इंडिया के एक अधिकारी ने बताया, इस विशेष विमान में 263 यात्री थे. विमान रोम से सुबह करीब दस बजे दिल्ली हवाईअड्डे पर उतरा. Also Read - COVID Vaccine: भारत में Sputnik को मिल सकती है 10 दिन में मंजूरी, वैक्‍सीनेशन का आंकड़ा 10 करोड़ हुआ

आईटीबीपी के एक प्रवक्ता ने कहा, सभी 263 लोगों को थर्मल स्क्रीनिंग के बाद दक्षिण-पश्चिमी दिल्ली के छावला इलाके में हमारे पृथक केंद्र में लाया गया है. Also Read - Lockdown in MP: मध्‍य प्रदेश में लॉकडाउन की फोटोज, आंकड़े दे रहे बड़ी चेतावनी

भारत-तिब्बत सीमा पुलिस के अलगाव केंद्र में 15 मार्च से पहले ही 215 भारतीय रह रहे हैं. उन्हें भी एयर इंडिया के विशेष विमान से रोम से निकाला गया था. इस केंद्र में पहले चीन के वुहान शहर से लाए गए भारतीय और विदेशियों के दो जत्थों को रखा गया था. Also Read - COVID-19 in Gujarat: सोमनाथ मंदिर में दर्शन आज से बंद, गुजरात कल आए थे 5,011 नए

बता दें कि भारत में कोरोना वायरस के मामले बढ़कर रविवार को 324 पर पहुंच गए. देश के विभिन्न हिस्सों से नए मामले
सामने आए हैं. वहीं, देशभर में जनता कर्फ्यू से सन्‍नाटा है, शहर बंद हैं और सड़कें सुनसान पड़ी हुई हैं.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि इन कुल मामलों में 41 विदेशी नागरिक भी शामिल हैं. इनमें से दिल्ली, कर्नाटक तथा महाराष्ट्र से अभी तक चार लोगों की मौत हो चुकी है. बिहार से एक युवक 38 साल के युवक की मौत हो गई.