नई दिल्ली: पूरी दुनिया इन दिनों कोरोना वायरस की समस्या से जूझ रही है. इस कारण कई हवाई यात्राओं को भी बंद कर दिया गया है. ऐसे में भारत में भी ऐसा ही असर देखने को मिल रहा है. बीते शुक्रवार एयर एशिया की पुणे से दिल्ली जा रही विमान में अजीब मामला देखने को मिला. विमान में संदिग्ध कोरोना वायरस संक्रमित यात्री के मौजूद होने की खबर ने अफरा-तफरी का माहौल बना दिया. इस दौरान लैंडिंग के बाद पायलट ने गेट के बजाय सेकेंडरी एग्जिट यानी स्लाइडिंग विंडो का विकल्प चुना और बाहर निकले. Also Read - #Yogi Adityanath: योगी आदित्यनाथ को हुआ कोरोना, लोग कर रहे दुआ, बोले- Get well soon

एयरएशिया इंडिया के प्रवक्ता ने कहा, “20 मार्च 2020 को I5-732, पुणे से नई दिल्ली के बीच जा रहे विमान में सवार यात्रियों में एक संदिग्ध के कोविड -19 से पीड़ित होने की सूचना मिली थी। संदिग्ध यात्री विमान में रो 1 में बैठा था। यात्रियों की बाद में जांच की गई जिसमें रिपोर्ट निगेटिव आया. प्रवक्ता ने बताया कि लैंडिंग के बाद एक सुरक्षा उपाय के रूप में, विमान को लोकेशन से थोड़ी दूर खड़ा किया गया था और संदिग्ध यात्रियों को सामने के दरवाजे से उतारा गया था। प्रवक्ता ने कहा कि अन्य सभी यात्रियों को विमान के पिछले दरवाजे से उतारा गया। Also Read - Kashi Vishwanath Temple Guidelines: काशी विश्वनाथ और अन्नपूर्णा मंदिर में दर्शन के लिए नए नियम, कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य

प्रवक्ता ने कहा, कि कॉकपिट में प्लेन के मेम्बर्स के लिए क्वारंटीन की व्यवस्था की गई. क्योंकि प्राथमिक निकास के पास केबिन का वातावरण सुरक्षित नहीं था। कैप्टन को सुरक्षित निकास यानी स्लाइडिंग विंडो के माध्यम से बाहर निकाला गया. प्रवक्ता ने बताया कि बाद में प्लेन की अच्छी तरह सफाई की गई. उन्होंने कहा कि हमारे चालक दल इस तरह की घटनाओं के लिए अच्छी तरह से प्रशिक्षित हैं. Also Read - यूपी के CM योगी आदित्यनाथ कोरोना वायरस से संक्रमित, खुद Tweet कर दी जानकारी