नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने राजधानी दिल्ली में कोरोना महामारी के एक बार फिर बढ़ते मामलों के कारण उच्च स्तरीय अपात बैठक बुलाई है. खबरों की मानें तो इस बैठक में स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन, मुख्य सचिव विजय देव व अन्य उच्च स्तरीय अधिकारी इस बैठक में शामिल होंगे. बता दें कि आज दिल्ली में एक दिन में 1,544 कोरोना संक्रमण के मामले सामने आए हैं. वहीं 17 लोगों की मौत हो चुकी है. दिल्ली में संक्रमितों के एक्टिव मामलों की संख्या 11,998 पहुंच चुका है. Also Read - दिल्ली सरकार को हाईकोर्ट का झटका, निजी अस्पतालों में कोरोना मरीजों के लिए 80% ICU बेड रिजर्व रखने के आदेश पर रोक

बता दें कि लगभग एक महीने बाद राजधानी दिल्ली में फिर से कोरोना के मामलों में वृद्धि देखने को मिली है. ऐसे में कयास लगाया जा रहा है कि दिल्ली में कोरोना एक बार फिर बढ़ सकता है और उसकी रफ्तार बेकाबू हो सकती है. ऐसे में मुख्यमंत्री अरविंद केंजरीवाल ने उच्च स्तरीय बैठक बुलाई है ताकि कोरोना के बढ़ते मामलों पर नकेल कसा जा सके. Also Read - भारत में 10 लाख की आबादी पर कोरोना के 4000 मामले और 64 मौतें, देश का रिकवरी रेट 80 प्रतिशत से अधिक

बता दें कि इस बाबत बोलते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से कोरोना के केस में बढ़ोतरी नज़र आ रही है. हालांकि बाकि सब पैरामीटर ठीक है. रिकवरी रेट 90% से ऊपर है और मौत के आंकड़ों में लगातार कमी आ रही है. अभी दिल्ली में कोरोना की स्थिति नियंत्रित है. दिल्ली सरकार कोरोना टेस्ट की संख्या डबल करने जा रही है. अभी तक हम 20 हज़ार टेस्ट कर रहे थे, अब हम रोज 40 हजार टेस्ट करेंगे. केजरीवाल ने आगे कहा कि कोरोना से ठीक होने के बाद भी यदि लोगों को स्वास्थ्य संबंधी परेशानी होती है, तो दिल्ली सरकार उन्हें ऑक्सीमीटर देगी और जरूरत पड़ने पर घर पर ही ऑक्सिजन कोन्संट्रेटर का इंतजाम भी करेगी. Also Read - Coronavirus Fresh Restrictions: कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए देश के इन जिलों में लगाए गए नए प्रतिबंध, कहीं लॉकडाउन तो कहीं...

बता दें कि इस बाबत दिल्ली मॉडल की तारीफ पीएम नरेंद्र मोदी भी कर चुके हैं. वहीं केजरीवाल भी दिल्ली मॉडल की तारीफ करते रहे हैं. वहीं AIIMS के महानिदेशक डॉक्टर बलराम भार्गव ने भी कहा था कि प्रतिबंधों के हटने के बाद लोगों की आवाजाही बढ़नी शुरू हो जाएगी. ऐसे में कोरोना के मामलों में तेजी सामान्य बात है.