Coronavirus: देश में कोरोना की दूसरी लहर का कहर धीरे-धीरे कम हो रहा है. हालांकि संभावित तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए तमाम तरह की सावधानी बरती जा रही है. लॉकडाउन के बाद राज्यों में अनलॉक की शुरुआत हो चुकी है, लेकिन कई पाबंदियां लागू हैं. एक समय 4 लाख पार कर गए कोरोना के रोजाना दर्ज किये जाने वाले मामले अब 35-40 हजार के बीच में सीमित है.Also Read - Man Ki Baat: अमेरिका से लौटे पीएम मोदी, मन की बात में दी नसीहत-त्योहारों में खास सतर्कता है जरूरी

इन सबके बीच आगामी त्योहारों को देखते हुए केंद्र ने एक बार फिर राज्यों को आगाम किया है. केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण (Rajesh Bhushan) ने राज्यों के मुख्य सचिवों को चिट्ठी भेजकर आने वाले त्योहारों को लेकर सतर्क किया है. साथ ही साथ पत्र के जरिये यह भी कहा गया है कि भीड़ इकट्ठा न हो इसके लिए राज्य अपने स्तर से पाबंदी लगा सकते हैं. Also Read - MP: महू छावनी में कोरोना से संक्रमित 7 और लोग मिले, 48 घंटे में नए मरीजों की संख्‍या 37 पर पहुंची

पत्र के जरिये स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने राज्यों से कहा कि त्योहारों में भीड़ जमा न होने दें. साथ ही साथ राज्य इन चीजों पर सख्ती के साथ नजर रखें और कोरोना एप्रोप्रियेट बिहेवियर का पालन करवाएं. राज्यों को लिखे पत्र में केंद्र ने मोहर्रम, ओणम, जन्माष्टमी, गणेश चतुर्थी और दुर्गा पूजा को लेकर सुझाव दिए हैं. Also Read - COVID-19: देश में कोरोना के 31,382 नए केस आए, एक्‍ट‍िव मरीज घटकर 3 लाख 162 रह गए

स्वास्थ्य सचिव ने कहा कि इन त्योहारों में भीड़ जमा न हो इसके लिए राज्य अपने स्तर से पाबंदियों की घोषणा कर सकते हैं. इसमें कहा गया है कि एक छोटी सू चूक संक्रमण फैलने का बड़ा कारण बन सकती है.

उधर, भारत में एक दिन में कोरोना वायरस से 42,625 लोगों के संक्रमित पाए जाने से महामारी के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 3,17,69,132 हो गई. देश में फिलहाल एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर 4,10,353 हो गई है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को बताया कि 562 और लोगों के जान गंवाने से मृतकों की संख्या बढ़कर 4,25,757 पर पहुंच गई. वहीं, एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर 4,10,353 हो गई जो संक्रमण के कुल मामलों का 1.29 प्रतिशत है, जबकि कोविड-19 से स्वस्थ होने वाले लोगों की राष्ट्रीय दर 97.37 प्रतिशत है.