तिरुवनंतपुरमः इस समय कोरोना वायरस(Coronavirus) को लेकर पूरी दुनिया परेशान है और हर देश इससे बचने के हर संभव प्रयास कर रहे हैं. ऐसे समय में सबसे ज्यादा उन लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है जो चीन से किसी किसी काम के लिए दूसरे देश जा रहे हैं. लोग चीनी नागरिक को होटल देने में आना कानी कर रहे हैं. ऐसा ही एक मामला भारत में आया है. केरल में चीन का एक युवक ठहरने के लिए होटल न मिलने से परेशान होकर तिरुवनंतपुरम पुलिस के पास पहुंचा लेकिन पुलिस ने उसे होटल के बजाय अस्पताल के एक अलग वार्ड में भर्ती करा दिया.

पुलिस ने बताया कि भारत की यात्रा पर आया 25 वर्षीय पर्यटक मंगलवार को राज्य की राजधानी पहुंचा. जब होटल में कमरा न मिलने की सारी कोशिशें नाकाम हो गई तो वह शिकायत लेकर शहर के पुलिस आयुक्त कार्यालय पहुंचा.

उन्होंने बताया कि जैसे ही पुलिसकर्मियों ने सुना कि वह चीन से आया है तो वे उसे अस्पताल के अलग वार्ड में ले गए. चीन में कोरोना वायरस के चलते 563 लोगों की मौत हो चुकी है. सिचुआन प्रांत के इस पर्यटक को वायरस के कोई लक्षण नहीं हैं. हालांकि, उसके नमूनों को जांच के लिए भेजा गया है. बताया जा रहा है कि वह 23 जनवरी को दिल्ली पहुंचा और मंगलवार को विमान से यहां पहुंचा था.

तिरुवनंतपुरम पहुंचने के बाद वह होटल में कमरा ढूंढने के लिए निकला लेकिन चीन से होने के कारण उसे हर जगह कमरा देने से इनकार कर दिया गया. इसके बाद उसने पुलिस से मदद मांगी. विशेष शाखा की पुलिस ने फौरन स्वास्थ्य अधिकारियों और जिलाधीश कार्यालय को सूचित किया तथा जिला चिकित्सा अधिकारी के निर्देशेां पर उसे जनरल अस्पताल के एक अलग वार्ड में भर्ती करा दिया गया.

पुलिस ने बताया कि जब तक नतीजे नहीं आते वह अलग वार्ड में ही रहेगा. केंद्र सरकार को भी सूचित कर दिया गया है. चीनी युवक के अलावा राज्य में दो अन्य विदेशी नागरिकों समेत 2,528 लोगों की कोरोना वायरस संक्रमण के लिए जांच चल रही है.