नई दिल्ली: सिंगापुर और दक्षिण कोरिया के नक्शेकदम पर चलते हुए भारत में भी कोरोना कवच नाम से एक अपना ट्रैकिंग ऐप बनाया गया है. यह ऐप हर घंटे आपको डेटा को ट्रैक करने का नोटिफिकेशन भेजेगा. इस ऐप के सहारे आप जान पाएंगे कि आखिर आपने किस कोरोना संक्रमित शख्स को क्रॉस किया है. संपर्क ट्रैकिंग ऐप प्रौद्योगिकी मंत्रालय और परिवार कल्याण मंत्रालय का संयुक्त प्रयास है. Also Read - IRCTC Indian Railways: इन 40 मार्गों पर रेलवे का प्रदर्शन रहा शानदार, इसलिए चलाई जाएंगी और ट्रेनें

इस ऐप के सहारे उपयोगकर्ता के लोकेशन की जानकारी हासिल कर जीपीएस पर मैप किया जाता है. इसके बाद देखा जाता है कि आखिर वह किस जगह पर है. इस दौरान अगर ऐप यूजर रास्ते पर किसी भी कोरोना संक्रमित शख्स को क्रॉस करता है या फिर किसी तरह उसके संपर्क में आता है तो यह ऐप आपको नोटिस भेजकर इस बारे में सूचना दे देगी कि आपके पास कोरोना संक्रमित व्यक्ति है. Also Read - IRCTC Indian Railways: कुछ खास रूट्स पर बढ़ाई जाएंगी ट्रेनों की संख्या, रेल मंत्री बोले- बनाएंगे रिकॉर्ड

डेटा विशेषज्ञों का मानना ​​है कि यह भारत जैसे देश के लिए फायदेमंद हो सकता है जहां बड़ी संख्या में सेलफोन उपयोगकर्ता हैं। कोरोना कवच ऐप को लेकर कहा गया है कि इसमे सभी लोगों की जानकारी सुरक्षित रहेंगी. साथ ही उपयोगकर्ता की पहचान सरकार सहित किसी को भी नहीं बताई जाएंगी. गौरतलब है कि देशभर में अबतक 2000 से अधिक लोग कोरोना संक्रमित हैं. साथ ही 60 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. ऐसे में सुरक्षा लिहाज से यह ऐप काफी कारगर साबित हो सकता है. Also Read - Complete Lockdown in Bihar: कल से बिहार में पूर्ण लॉकडाउन, जानिए खुलने वाली चीजों की पूरी लिस्ट