नई दिल्लीः कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते संक्रमण ने भारत में सोमवार (23 मार्च) सुबह तक 400 के आस-पास पहुंच गई है. बीते दो दिनों में 137 से ज्यादा कोरोना पॉजिटिव मरीजों के नए मामले सामने आए हैं. वहीं मरने वालों की संख्या भी 8 हो गई है. देश में संक्रमित लोगों में से 41 विदेशी नागरिक हैं, जिनमें से मुंबई में 68 वर्षीय एक विदेशी की मौत हो गई है. Also Read - COVID-19: देश की सड़कें फिर नजर आईं सूनी, कोरोना संक्रमण के 72 फीसदी से ज्‍यादा केस सिर्फ इन 5 राज्यों से हैं

खतरनाक वायरस से देश को बचाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने देश के नागरिकों से रविवार (22 मार्च) को जनता कर्फ्यू (Janta Curfew) की अपील की थी. जिसके बाद पूरे देश ने इसका समर्थन किया. रविवार को पूरे देश में बाजार बंद रहे और लोग भी अपने ही घरों में रहे, जिसके चलते पूरा देश की सड़कें खाली रहीं. Also Read - Corona Spike in india: देश में COVID19 के 1.45 लाख से ज्‍यादा नए मामले सामने आए, 24 घंटे में 794 मौतें

इस वायरस से बचने के लिए राज्य सरकारों ने भी अपने-अपने स्तर पर काम करना शुरू कर दिया है. जिसके चलते राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली (Delhi) समेत 100 से अधिक जिलों में लॉकडाउन का ऐलान हो चुका है. वहीं सभी कॉमर्शियल अंतर्राष्ट्रीय फ्लाइट्स पहले ही रद्द की जा चुकी हैं, ताकि विदेशों से यह वायरस लेकर आ रहे लोगों को रोका जा सके. बता दें वायरस के चलते ब्रिटेन और मलेशिया में करीब 280 भारतीय फंसे हैं, जिन्होंने दूतावास से गुहार लगाई है. Also Read - देश में गंभीर हो रहा कोरोना, खेल गतिविधियों पर फिर लगा ब्रेक

कहां कितने केस
देश में सबसे अधिक कोरोना पॉजिटिव मरीज महाराष्ट्र में पाए गए हैं. जहां अभी तक 89 केस सामने आ चुके हैं. वहीं केरल में 52 मामले और दिल्ली में 27 लोग संक्रमित पाए गए हैं. वहीं उत्तर प्रदेश में एक विदेशी समेत 25 कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आए हैं.

इसके अलावा मध्य प्रदेश में कोरोनावायरस पॉजिटिव मरीजों की संख्या 6 हो गई है. भोपाल में कोरोना वायरस से पॉजिटिव मरीज पाए जाने के बाद जिले की सीमाएं सील कर दी गई हैं. इस बीच देश में 31 मार्च तक के लिए सभी यात्री ट्रेनें रद कर दी गई हैं, ताकि इस वायरस को फैलने से रोका जा सके.

भारतीय रेलवे ने पुष्टि करते हुए बताया है कि 31 मार्च तक सभी यात्री ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है. बता दें कोरोना वायरस के चलते दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने 31 मार्च तक राष्ट्रीय राजधानी में लॉकडाउन की घोषणा की है. इस दौरान कोई भी पब्लिक ट्रांसपोर्ट नहीं चलेगा.