नई दिल्ली: दरियागंज इलाके की थोक सब्जी मंडी में मंगलवार सुबह अचानक लोगों की भारी भीड़ उमड़ आई. यहां लोगों में एक दूसरे से पहले सब्जियां खरीदने की होड़ लगी थी. सब्जी की एक-एक दुकान पर 15 से 20 लोग इकट्ठा थे. कुल मिलाकर एक बार में पूरी मंडी में करीब 15 सौ से अधिक लोग एक साथ खरीदारी के लिए पहुंच गए. दरियागंज इलाके की इस सब्जी मंडी का क्षेत्रफल अन्य सामान्य सब्जी मंडियों के मुकाबले काफी कम एवं छोटा है. साधारण दिनों में यहां मुख्यत सब्जी विक्रेता ही थोक व्यापारियों से सब्जी खरीदने पहुंचते हैं. लेकिन मंगलवार सुबह बड़ी संख्या में स्थानीय लोग भी सब्जियां खरीदने यहां पहुंचे. Also Read - लॉकडाउन के दौरान 'गंभीर चूक', केंद्र ने दिल्ली सरकार के दो अधिकारियों को किया निलंबित

सब्जी खरीदने आए चांदनी चौक निवासी संजू गुप्ता ने कहा, “सोमवार शाम से ही दिल्ली में कर्फ्यू लगने की खबर आ रही थी. हमें लगा कि इस दौरान सब्जी की किल्लत हो सकती है, इसलिए मैं अपने भाई के साथ सब्जी खरीदने दरियागंज मंडी आ गया. यहां बड़ी तादाद में लोग मौजूद थे. हर कोई जल्दी से जल्दी सब्जी खरीद कर कर इस भीड़ वाले स्थान से निकल जाना चाहता था.” सब्जियां अनिवार्य वस्तुओं के अंतर्गत आती हैं. यही कारण है कि सब्जी मंडी खुली रखी गई थी. इस दौरान पुलिस ने सुरक्षा और सावधानी के इंतजाम किए थे. मंडी के बाहर हर रोज सैकड़ों खुदरा दुकानदार सड़क और फुटपाथ पर बैठते हैं जिनके कारण यहां ट्रैफिक जाम और काफी भीड़ हो जाती है. पुलिस ने मंगलवार को ऐसे किसी भी खुदरा व्यापारी को मंडी के बाहर दुकान नहीं लगाने दी. Also Read - बोल्ड तस्वीरें देख मचल जाते हैं फैंस, कोरोना संकट के समय गरीबों में दूध बांट रही है ये एक्ट्रेस

पुरानी दिल्ली के निवासी सुनील सिंह ने कहा, “सब्जी मंडी में खरीदारी करने वाले लोग बस किसी भी कीमत पर अपना सामान खरीदने को बेसब्र थे. सरकार और पुलिस ने एक स्थान पर पांच से अधिक लोगों के एकत्र होने पर पाबंदी लगाई है. लेकिन, मंडी के अंदर ऐसा बिल्कुल नहीं था. यहां खरीदारी के लिए आए लोगों ने न केवल बेतहाशा भीड़ बढ़ाई बल्कि गैरजरूरी जल्दबाजी करते करते रहे.” सब्जी विक्रेता फिरासत ने कहा, “यूं तो सब्जी मंडी में हमेशा से ही भीड़ होती है, लेकिन कर्फ्यू की खबरों के बीच यहां मंगलवार को बड़ी तादाद में खरीदार पहुंचे. इन लोगों में सब्जियों की किल्लत या मार्केट में सब्जी खत्म हो जाने का डर था. जबकि यहां ऐसी कोई स्थिति नहीं है. मार्केट में लगातार अन्य बड़ी मंडियों और ग्रामीण इलाकों से सब्जी की सप्लाई हो रही है.” Also Read - COVID-19: सीमा सील होने के बावजूद पैदल यात्रा जारी, घर जाने की लगी होड़