अहमदाबाद: कोरोना वायरस की दूसरी लहर में संक्रमण के मामले दिन पर दिन कम होते जा रहे हैं. लेकिन तीसरी लहर को लेकर सभी आशंकित हैं. ऐसे में गुजरात की लाइफलाइन कहे जाने वाली साबरमती नदी में कोरोना वायरस पाया गया है. दरअसल यहां की पानी के सैंपल को जांच के लिए भेजा गया था, जहां साबरमती के पानी को भी संक्रमित पाया गया है. बता दें कि गुजरात में साबरमती के अलावा, कांकरिया, चंदोल झील में भी कोरोना वायरस मिला है.Also Read - Atal Bimit Vyakti Kalyan Scheme: बेरोजगारों को सरकार ने 3 महीने तक दिया पैसा, कोरोना काल में गई नौकरी तो 30 दिनों के अंदर करें दावा

TV9 में छपी एक खबर के मुताबिक साबरमती का पानी संक्रमित पाया गया है. वहीं गुवाहाटी में बारू नदीं के सैंपल में कोरोना संक्रमण मिला है. देश के 8 संस्थाओं ने इन सैंपलों की टेस्टिंग की और पाया कि इनमें विषाणुओं की संख्या काफी अधिक है. बता दें कि पिछले साल सीवेज से सैंपल लेकर जांच के दौरान कोरोना वायरस की मौजूदगी की पता चला था. इसके बाद प्राकृतिक जल स्त्रोतों के बारे में भी पता लगाने के लिए दोबारा से अध्ययन को शुरू किया गया था. Also Read - IIMC के महानिदेशक संजय द्विवेदी का बयान, बोले- कोरोना के खिलाफ जंग में मीडिया की महत्वपूर्ण भूमिका

बता दें कि देश में कोरोना संक्रमण के मामलों लगातार कमी आ रही है, वहीं इससे मरने वालों की संख्या में भी कमी आ रही है. आकंड़ों के मुताबिक बीते 24 घंटे में 62,480 लोग कोरोना संक्रमित हुए हैं. वहीं 1,587 लोगों की कोरोना संक्रमण के कारण मौत हो गई और 88,977 लोगों को इलाज कर ठीक किया जा चुका है. Also Read - Coronavirus Cases in USA: अमेरिका में कोरोना के डेल्टा वेरिएंट का कहर, 1 दिन में 1 लाख से अधिक लोग संक्रमित