Unlock 4 Fresh Restrictions: देश में जारी कोरोना संकट के बीच अनलॉक 4.0 (Unlock 4.0) की शुरुआत हो चुकी है. केंद्र सरकार की तरफ से 29 अगस्त को Unlock 4 को लेकर जारी गाइडलाइंस के अनुसार 21 सितंबर से लोगों को कई और रियायतें मिल गईं. हालांकि कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए कई राज्य सरकारों ने अपने यहां नए प्रतिबंध (Coronavirus Restrictions) भी लगाए हैं. कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर समेत 10 जिलों में आगामी एक हफ्ते के लिए लॉकडाउन लगा दी गई है. वहीं, इसके साथ-साथ कई अन्य राज्यों ने भी कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए कुछ नए प्रतिबंध की घोषणा की है.Also Read - School/College Closed In UP: उत्तर प्रदेश में सभी शैक्षणिक संस्थान 30 जनवरी तक रहेंगे बंद, आदेश जारी

Lockdown In Chhattisgarh: रायपुर- जिला प्रशासन ने राजधानी रायपुर समेत छत्तीसगढ़ के 10 जिलों में 21 सितंबर से संपूर्ण लॉकडाउन की घोषणा की है. इसके साथ-साथ रायपुर को कन्टेन्मेंट जोन भी घोषित किया गया है. रायपुर के डीएम की तरफ से जारी आदेश के अनुसार इस दौरान सभी सरकारी और प्राइवेट दफ्तर बंद रखे जाएंगे. सरकारी आदेश में कहा गया है कि राज्य के सभी जिले में 21 सितंबर रात 9 बजे से 28 सितंबर 12 बजे तक धारा 144 भी लागू रहेगी. Also Read - HD Devegowda Corona Positive: पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा हुए कोरोना संक्रमित, फिलहाल नहीं दिख रहे हैं लक्षण

इस अवधि में रायपुर जिले की सभी सीमाएं पूरी तरह से सील रहेंगी. इस दौरान, मेडिकल स्टोर्स को अपने निर्धारित समय में खुलने की अनुमति होगी. दूध की बिक्री भी निर्धारित समय में की जा सकेगी. वहीं, रायपुर में पेट्रोल पंप भी खुले रहेंगे, लेकिन वे सिर्फ एम्बुलेंस, सरकारी वाहनों, एलपीजी डिलीवरी वाहनों और आपातकालीन सेवाओं में लगे वाहनों को ही ईंधन देंगे. Also Read - Assembly Polls 2022: कोरोना के मामलों के बीच क्या रैलियों, रोड शो पर लगी पाबंदियां बढ़ेंगी? चुनाव आयोग की अहम बैठक आज

जयपुर: कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार ने शनिवार से राज्य के 11 जिलों में धारा 144 लगा दी है. इन जिलो में राजधानी जयपुर समेत जोधपुर, कोटा, अजमेर, अलवर, भीलवाड़ा, बिकानेर, उदयपुर और सिकर शामिल हैं.

मुंबई: मुंबई में किसी भी आंदोलन और लोगों को इकट्ठा होने पर लगे प्रतिबंध को 30 सितंबर तक बढ़ा दिया गया है. बता दें कि मुंबई में 25 मार्च से ही धारा 144 के तहत प्रतिबंध लागू हैं.

नोएडा: नोएडा जिला प्रशासन ने जिले में लगे धारा 144 को 30 सितंबर तक के लिए बढ़ा दिया है. हालांकि इसमें कोई नया प्रतिबंध नहीं जोड़ा गया है.

दिल्ली: दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए राजधानी के सभी स्कूलों को आगामी 05 अक्टूबर तक बंद रखने का फैसला किया है.

तमिलनाडु: तमिलनाडु में भी कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए रविवार को सिर्फ स्वास्थ्य सेवाओं और दूध की आपूर्ति की इजाजत दी गई.

उधर, अनलॉक-4 के दिशानिर्देशों (Unlock 4 Guidelines) के तहत 21 सितंबर से कोरोना संबंधित गाइडलाइंस और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करके धार्मिक, सामाजिक, राजनीतिक, खेल और मनोरंजन से जुड़े तमाम तरह के कार्यक्रम आयोजित किए जा सकेंगे. हालांकि इस दौरान 100 से ज्यादा लोगों की इजाजत नहीं होगी.

शादी समारोह में अब 100 लोग हो सकेंगे शामिल
केंद्र सरकार की नई गाइडलाइंस में शादी समारोह और अंतिम संस्कार में शामिल होने वाले लोगों की संख्या भी बढ़ाई गई है. पहले शादी से सिर्फ 20 लोगों को ही शामिल होने की इजाजत थी, लेकिन अब 100 लोग सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन कर समारोह में शामिल हो सकते हैं. इस तरह के कार्यक्रमों में मास्क पहनना, सामाजिक दूरी का पालन करना, थर्मल स्कैनिंग और हाथ धोना या सैनिटाइजर का इस्तेमाल करना जरूरी होगा.

ओपन एयर थियेटर खोले जा सकेंगे
इसके अलावा आज से ओपन एयर थियेटर भी खोले जा सकेंगे. लेकिन मॉल में स्थित सिनेमा हॉल, स्विमिंग पूल, मनोरंजन पार्क, थिएटर और इसी तरह के स्थान बंद रखे जाएंगे. साथ ही अंतरराष्ट्रीय हवाई यात्रा, गृह मंत्रालय द्वारा मंजूर यात्रा को छोड़कर, स्थगित रहेगी.

कंटेन्मेंट जोन में जारी रहेगी सख्ती
सरकार के दिशानिर्देशों के अनुसार कंटेन्मेंट ज़ोन्स में नियमों में सख्ती रहेगी. कंटेन्मेंट जोन्स में पहले की तरह ही लॉकडाउन जारी रहेगा. 30 सितंबर तक कंटेनमेंट जोन में किसी तरह की कोई रियायत नहीं दी गई है. वहीं दिशा निर्देशों में अहम यह भी है कि केंद्र ने कहा है कि राज्य सरकारें कंटेनमेंट ज़ोन्स के बाहर अपनी मर्जी से लॉकडाउन नहीं लगा सकती हैं.