नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में फैले कोरोना वायरस के मद्दनेजर प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इस दौरान उन्होंने कई मुद्दों पर चर्चा की. बता दें कि दिल्ली में मेडिकल स्टाफ सहित नगर निगम के कर्मचारियों के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि की गई है. दिल्ली नगर निगम (MCD) के 39 व जगजीवन अस्पताल में 7 कोरोना संक्रमण के मामले सामने आए हैं. इसमें डॉक्टर और नर्सें भी शामिल हैं. नगर निगम के सभी 39 सफाई कर्मचारी हैं. फिलहाल सभी को इलाज के लिए भेज दिया गया है और वे किस किस से संपर्क में आए थे उनका पता लगाया जा रहा है. Also Read - अक्षय कुमार बन गए रियल 'पैडमैन', अब इस तरीके से करना चाहते हैं मदद, की स्पेशल अपील

बता दें कि केजरीवाल ने प्लाज्मा थेरेपी पर बात करते हुए अपने संबोधन की शुरुआत की. इस दौरान उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि दिल्ली के एलएनजेपी अस्पताल में कोरोनावायरस के 4 मरीजों में से 2 को प्लाज्मा दिया गया. उस समय तक वे आईसीयू में थे. दो दिन में ही उनकी हालत में सुधार हुआ. आज वे वार्ड में शिफ्ट किए जाएंगे. उनकी स्थिति बेहतर है. दो दिन में हालत सुधर गई है. Also Read - लॉकडाउन में अंडर-19 खिलाड़ियों को मिली ये सीख, जानिए राहुल द्रविड़ की जुबानी

बता दें कि दिल्ली में अबतक कोरोना वायरस के 2500 से अधिक मामले सामने आ चुके हैं. कुल संक्रमितों में से 808 लोगों का इलाज कर उन्हें घर भेज दिया गया है. वहीं मरने वालों की बात करें तो यह आंकड़ा अब 50 पहुंच चुका है. बता दें कि कोरोना से सबसे ज्यादा तबाही महाराष्ट्र और गुजरात में फैली है. दिल्ली इसमें तीसरे स्थान पर है. Also Read - अमेरिका में कोरोना वायरस से 1,00,000वें व्यक्ति की मौत, 500 से अधिक भारतीय भी हुए आकाल मौत के शिकार