नई दिल्ली: दिल्ली में कोरोना मरीजों का आंकड़ा अब 40 हजार के पार चला गया. इनमें से 20 हजार से ज्यादा मरीज अपने घर में ही उपचार करा रहे हैं. इन्हें फोन कॉल के जरिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए जा रहे हैं. दिल्ली सरकार के मुताबिक, बीते 24 घंटों में दिल्ली में कोरोना वायरस से 56 लोगों की मौत हुई है. इसे मिलाकर दिल्ली में अभी तक कुल 1327 लोग कोरोना वायरस से मर चुके हैं. दिल्ली में बीते 24 घंटों के दौरान कोरोना के 7353 टेस्ट हुए हैं. इनमें से 2224 व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. Also Read - कोरोना के नए प्रकार के कारण वैश्विक स्तर पर संक्रमण के बढ़े मामले, जानिए इसके पीछे की वजह

कोरोना बुलेटिन के मुताबिक, दिल्ली में कोरोना रोगियों की कुल संख्या 41,182 हो गई है. 24 घंटे के दौरान ही 878 कोरोना रोगी संक्रमण-मुक्त भी हुए हैं. अब तक 15,823 कोरोना रोगी स्वस्थ हो चुके हैं. दिल्ली में अभी भी 24,032 सक्रिय कोरोना रोगी हैं. इनमें से 20 हजार 793 कोरोना रोगियों को अपने घर में ही रहने को कहा गया है. दिल्ली सरकार के डॉक्टर फोन के जरिए इन रोगियों के संपर्क में हैं. राष्ट्रीय राजधानी में हॉटस्पॉट्स की संख्या 222 है. Also Read - दिल्ली में कोरोना के 2,505 नए मामले सामने आए, 10 लाख की आबादी पर किए जा रहे 32,650 टेस्ट

गृहमंत्री अमित शाह ने दिल्ली में कोरोना की रोकथाम और बचाव को लेकर रविवार को एक महत्वपूर्ण समीक्षा बैठक की है. इस बैठक में स्वयं गृहमंत्री अमित शाह, स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल एवं कई वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद रहे. Also Read - चीन की बढ़ेंगी मुश्किलें! कहां से निकला कोरोना वायरस? जांच के लिए अगले हफ्ते चाइना जाएगी डब्ल्यूएचओ की टीम

बैठक के बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, “केंद्र सरकार और दिल्ली सरकार के बीच बैठक बहुत ही उपयोगी रही. कोविड-19 के खिलाफ दिल्ली की लड़ाई से संबंधित सभी मुद्दों पर विस्तार से चर्चा की गई और प्रमुख निर्णय संयुक्त रूप से लिए गए. केंद्र सरकार और दिल्ली सरकार ने बेड बढ़ाने, जांच बढ़ाने और अन्य महत्वपूर्ण पहलुओं को लेकर तत्काल कार्य योजना बनाने पर सहमति व्यक्त की.” उन्होंने कहा कि “यह महामारी मानव जाति के इतिहास में हुई सबसे खराब घटनाओं में से एक है और हम सभी को इस महामारी से लड़ने के लिए एक साथ आना अनिवार्य है.”