Coronavirus In India: देश के विभिन्न हिस्सों से कोरोना के मामले सामने आ रहे हैं. संक्रमितों का आंकड़ा 30 हजार के करीब पहुंच चुका है. इस बीच सुप्रीम कोर्ट में भी कोरोना ने दस्तक दे दी है. Also Read - Sourav Ganguly का ऐलान, Covid-19 से खेल प्रभावित होने के बावजूद घरेलू क्रिकेटर्स को दी जाएगी पूरी सैलरी

खबरों के मुताबिक, सुप्रीम कोर्ट के एक कर्मचारी के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की सोमवार को पुष्टि हुई है. सुप्रीम कोर्ट के न्यायिक अनुभाग में ये कर्मचारी कार्यरत है. Also Read - Covid-19 Vaccination In Maharashtra: महाराष्ट्र में अब तक 1.8 करोड़ से अधिक लोगों का टीकाकरण

16 अप्रैल को ये कर्मचारी ड्यूटी पर आया था. वह कोर्ट के दो रजिस्ट्रार के संपर्क में भी आया था. अब इसके कोविड पॉजिटिव आने के बाद दोनों रजिस्ट्रारों को एहतियातन क्वारंटाइन कर दिया गया है. Also Read - Covaxin Price/Covishield price: प्राइवेट अस्पतालों में कितने रुपये खर्च करने पर मिलेगी कोरोना की वैक्सीन, जानें अपने शहर का रेट

16 अप्रैल को ही उसे बुखार आ गया था, जिसके बाद उसकी कोविड-19 जांच कराई गई थी. सोमवार को रिपोर्ट में वो पॉजिटिव मिला.

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने कोविड-19 के चलते 23 मार्च से अदालत की कार्यवाई वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये करने की घोषणा की थी.

देश में कोरोना

देश में कोरोना पीड़ितों की संख्या 29 हजार को पार कर गई है. मंगलवार सुबह स्वास्थ्य मंत्रालय की रिपोर्ट के मुताबिक 29,435 लोग इस वायरस से पीड़ित बताए गए है, जिसमें से 21,632 लोग कोरोना पॉजिटीव हैं. 6868 लोगों को देश के विभिन्न अस्पतालों से डिस्चार्ज कर दिया गया है. देश मे मंगलवार सुबह तक मरने वालों को तादाद 934 हो गयी है.

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक मंगलवार सुबह तक अंडमान-निकोबार में 33 कोरोना के मामले सामने आए हैं, जिनमें से 11 को डिस्चार्ज कर दिया गया है. उधर, आंध्र प्रदेश में मंगलवार सुबह तक 1183 मामले सामने आए. 235 को डिस्चार्ज किया जा चुका है, जबकि 31 की मौत हुई है. अरुणाचल प्रदेश में सिर्फ 1 मामला सामने आया है। असम में अब तक 36 लोग इस वायरस से पीड़ित बताये गए हैं जबकि 27 लोगों को डिस्चार्ज किया जा चुका है.