नई दिल्ली: दिल्ली में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के पांच नए मामले सामने से कुल संख्या के बढ़कर 35 हो जाने के बीच मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को कहा कि उनकी सरकार ने लॉकडाउन के दौरान आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों के लिए ई-पास जारी करने का फैसला किया है. बता दें कि कोरोना वायरस के चलते देश में अबतक 10 लोगों की जान जा चुकी है. ऐसे में सरकार की तरफ से पूरे देश में लॉकडाउन कर दिया गया है. Also Read - 10 लाख लोगों को मुफ्त भोजन कराएगी दिल्ली सरकार, बुधवार से नियम लागू

सीएम केजरीवाल ने डिजीटल प्रेस वार्ता में कहा कि दूध विक्रेता, सब्जी विक्रेता और किराना दुकानदार जैसे आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोग अपने मोबाइल फोन पर पास पाने के लिए हेल्पलाइन 1031 पर कॉल कर सकते हैं. मुख्यमंत्री ने कहा कि लोग दैनिक उपयोग की वस्तुओं को खरीदने के लिए पास की दुकानों तक पैदल जा सकते हैं. Also Read - निजामुद्दीन मरकज से लाए गए 1,548 लोगों में से 441 में लक्षण, टेस्‍ट करा रहे हैं: CM केजरीवाल

मेडिकल कर्मियों को घर खाली करने के लिए उनके मकानमालिकों द्वारा परेशान किए जाने की खबरों के बीच केजरीवाल ने घर के मालिकों से अनुरोध किया कि वे उन लोगों से दुर्व्यवहार नहीं करें जो वायरस से लड़ाई लड़ रहे हैं. उन्होंने कहा कि चिकित्सा कर्मचारियों का उत्पीड़न बर्दाश्त नहीं किया जा सकता. इसके साथ ही उन्होंने चेतावनी दी कि मकान मालिकों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. Also Read - लॉकडाउन के बीच अभिनेता अमोल पाराशर से खात बातचीत, हर सवाल का दिया सटीक जवाब