नई दिल्लीः देश में लॉकडाउन के बाद भी कोरोना संक्रमण का ग्राफ तेजी से बढ़ रहा है. स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के मुताबिक, बीते 24 घंटे में कोरोना के 4213 नए मामले सामने आने के बाद देश में कोरोना महामारी की संख्या बढ़कर 67152 हो गई है. कुल मामलों में से 44029 एक्टिव मामले हैं. कोरोना से देश में अब तक 2206 लोगों की जान जा चुकी है. हालांकि, राहत की बात यह है कि 20916 लोग इस महामारी को मात दे चुके हैं और ठीक होकर अपने घर चले गए हैं. कोरोना का सबसे ज्यादा प्रकोप महाराष्ट्र में देखने को मिल रहा है, जहां अब तक 22,171 COVID-19 के केस सामने आए हैं, पिछले 24 घंटे में 1,278 नए मामले मिले हैं और 53 लोगों की मौत हो गई है. जिसके बाद महाराष्ट्र में मृतकों की संख्या बढ़कर 832 हो गई है. Also Read - कोरोना वायरस से हुई पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर की मौत, परिवार ने आनन-फानन में दफनाया

महाराष्ट्र के अलावा गुजरात और दिल्ली एनसीआर में भी हालात काफी गंभीर है. गुजरात में अब तक 8,195 लोग इस महामारी की चपेट में आ चुके हैं. जिनमें से 493 लोगों की मौत हो चुकी है. पिछले 24 घंटे की बात की जाए, तो गुजरात में 24 घंटों में कोरोना के 398 नए मामले सामने आए हैं. वहीं 21 नई मौतें हुई हैं. इसके अलावा दिल्ली में अब तक कोरोना के 6,542 मामले सामने आए हैं. जिनमें से 71 मरीजों की मौत हो चुकी है. Also Read - 15 दिन में एक लाख से अधिक लोग हुए कोरोना संक्रमित, बिगड़ सकती है स्थिति

उत्तर प्रदेश में 102 नए कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की पुष्टि हुई है, जिसके बाद राज्य में कोरोना से पीड़ित मरीजों की संख्या 3,467 पहुंच गई है. प्रदेश में अब तक 79 लोग इस महामारी से अपनी जान गंवा चुके हैं, जबकि 1653 लोग इलाज के बाद ठीक हो चुके हैं.

बात करें मध्य प्रदेश की तो यहां अभी तक कोरोना के 3614 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं, जिनमें से 1,676 ठीक हो चुके हैं और 215 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं आंध्र प्रदेश में भी इस महामारी का भारी प्रकोप देखने को मिल रहा है, जहां 1980 कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं, जिनमें से 45 की मौत हो चुकी है. हालांकि, राहत की बात यह है कि इन मरीजों में से 925 मरीज ठीक हो चुके हैं.

तमिलाडु में भी स्थिति बेहद गंभीर है. यहां कोरोना के कुल 7,204 मामले सामने आ चुके हैं, जिनमें से 47 की मृत्यु हो चुकी है और 1,959 लोग ठीक हुए हैं. पिछले 24 घंटे में कोरोना के 669 नए मामले तमिलनाडु में सामने आए हैं. वहीं राजस्थान में 3,814 कोरोना संक्रमित पाए जा चुके हैं, जिनमें से 107 मरीजों की मौत हो चुकी है तो वहीं 2,176 लोग इस महामारी से बाहर निकल चुके हैं.