CoronaVirus In India: देश में COVID-19 के तेजी से बढ़ते मामलों के बीच आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) केंद्रीय मंत्रिपरिषद (Union Cabinet Meeting) की बैठक में कोरोना से निपटने के लिए की जा रही तैयारियों और उपायों की चर्चा कर रहे हैं. आज की ये बैठक सुबह 11 बजे से शुरू हो गई है. माना जा रहा है कि प्रधानमंत्री इस बैठक में बड़ा फैसला ले सकते हैं. ये बैठक राजधानी दिल्ली में हो रही है. इस बैठक में प्रधानमंत्री कोरोना से निपटने के लिए युद्धस्तर पर बनाई गई रणनीति को लागू करने का ऐलान कर सकते हैं.Also Read - ज्ञानवापी मस्जिद विवाद के बीच काशी पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, बोले - एक ही मंजिल तक पहुंचने के माध्यम हैं अलग-अलग पंथ

इस बैठक में कोविड-19 की वर्तमान स्थिति पर चर्चा हो रही है. यह बैठक डिजिटल माध्यम से हो रही है, जिसमें मंत्रिपरिषद के सदस्यों के अलावा केंद्र सरकार के शीर्ष अधिकारी भी शामिल हैं. बता दें कि देश में कोरोना महामारी की दूसरी लहर के दौरान यह केंद्रीय मंत्रिपरिषद की पहली बैठक हो रही है. बैठक में न सिर्फ कैबिनेट स्तर के मंत्री बल्कि स्वतंत्र प्रभार और राज्यमंत्री भी शामिल हैं. वर्चुअल तरीके से बुलाई इस बैठक में कोरोना महामारी पर तेजी से काबू पाने के लिए उठाए जाने वाले कदमों पर चर्चा की जा रही है. Also Read - Utkarsh Samaroh: एक बेटी का सपना सुनकर भावुक हुए पीएम नरेंद्र मोदी, बोले- कुछ मदद चाहिए तो हमें बताएं

पीएम के साथ केंद्रीय मंत्रिपरिषद की इस बैठक में 18 से 45 आयु वर्ग के लोगों के लिए एक मई से आरंभ हो रहे टीकाकरण अभियान को लेकर भी चर्चा की जा रही है. बैठक में मंत्रियों को जनता के बीच जाकर उनके मुद्दों को सुलझाने को कहा जा सकता है. इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ कई दौर की बातचीत कर चुके हैं.’ Also Read - भारत में आएगी कोरोना की चौथी लहर? इस आईआईटी प्रोफेसर ने किया है ये दावा-जानिए क्या कहा

बता दें कि कोरोना से उत्पन्न स्थिति पर  प्रधानमंत्री शीर्ष सरकारी अधिकारियों, दवा निर्माता कंपनियों के शीर्ष अधिकारियों, ऑक्सीजन आपूर्तिकर्ताओं, थल सेना और वायु सेना प्रमुखों सहित अन्य प्रमुख लोगों से वार्ता कर कोविड-19 की स्थिति पर चर्चा कर चुके हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को सेना प्रमुख जनरल एम एम नरवणे के साथ कोविड-19 प्रबंधन को लेकर बैठक की. जिसमें उन्होंने सेना की ओर से उठाए गए कदमों और अन्य तैयारियों की समीक्षा की.

बृहस्पतिवार को देश में एक दिन में कोरोनावायरस संक्रमण के रिकॉर्ड 3,79,257 मामले दर्ज किए गए और इसके साथ ही तीन हजार से ज्यादा मौतें हुई हैं. इसके साथ ही देश में संक्रमण के कुल मामले अब बढ़कर 1,83,76,524 हो गए हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक गुरुवार सुबह आठ बजे तक, एक दिन में 3,645 लोगों की मौत होने के बाद इस घातक बीमारी के मृतकों की संख्या 2,04,832 हो गई है.