नई दिल्ली: देश में कोरोना वायरस से संक्रमितों की संख्या 20 हजार के पार जा चुकी है, वहीं मरने वालों की संख्या भी 652 पहुंच चुकी है. ऐसे में कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में हर कोई अपने अपने तरीके से योगदान दे रहा है. इसी बीच राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की पत्नी व फर्स्ट लेडी सविता कोविंद भी कोरोना के खिलाफ अब मैदान में उतर चुकी है. इस दौरान वह मास्क खुद मास्क बनाकर कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ रही हैं. Also Read - CoronaVirus को खत्म करने की दवा 'DRDO 2DG' अगले हफ्ते होगी लॉन्च, अब तेजी से ठीक होंगे कोविड मरीज

राष्ट्रपति एस्टेट के शक्ति हाट में सविता कोविंद मास्क का काम करती दिखाई दीं. इस दौरान वह सिलाई मशीन के द्वारा मास्क के सिलाई का काम करती दिखीं. इस मास्क को प्रथम महिला ने गरीबों व लिए बनाया है. इसे कई शेल्टर होम्स और राजधानी के शहरी आश्रय सुधार बोर्ड को दिया जाएगा ताकि गरीबों तक मास्क की पहुंच हो सके. Also Read - Covid 19 Diet: कोरोना के दौरान खानपान को लेकर क्या है भ्रम? Dr. Viswesvaran से जानिए सच्चाई

बता दें कि मास्क बनाते समय खुद सविता कोविंद ने भी मास्क लगाए रखा था. बता दें कि बीते दिनों देश में मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया गया था. बवाजूद इसके कई लोगों के पास मास्क की सुविधा नहीं है. इस कारण जगह जगह लोग मास्क वितरण करने का काम करते दिख रहे हैं. यही कारण है कि कोरोना के खिलाफ जंग में सविता कोविंद ने भी अंशदान दिया और गरीबों के लिए मास्क बनाया.